दैनिक भास्कर हिंदी: बंगाल: शाह की रैली के दौरान तोड़फोड़, बीजेपी बोली- डरी हुई ममता हिंसा का रास्ता अपना रही है

January 30th, 2019

हाईलाइट

  • पश्चिम बंगाल दौरे पर पहुंचे अमित शाह की रैली के बाहर तोड़फोड़ हुई है।
  • आयोजन स्थल के बाहर मौजूद गाड़ियों के शीशे फोड़ दिए गए हैं।
  • तोड़फोड़ के बाद संबित पात्रा ने कहा कि ममता बनर्जी के राज में तालिबानी ताकतें काम कर रही हैं।

डिजिटल डेस्क, मिदनापुर। पश्चिम बंगाल दौरे पर पहुंचे अमित शाह की रैली के बाहर तोड़फोड़ हुई है। आयोजन स्थल के बाहर मौजूद गाड़ियों के शीशे फोड़ दिए गए हैं। वहीं कुछ गाड़ियों को जला भी दिया गया है। बीजेपी के राहुल सिन्हा ने इस हमले के पीछे तृणमूल कांग्रेस का हाथ बताया है। सिन्हा ने कहा कि TMC हमारी ताकत से डरती है, इसलिए उन्होंने हिंसा का रास्ता अपनाया। इससे भी ज्यादा दुर्भाग्यपूर्ण यह है कि पुलिस के सामने सब कुछ हुआ। हमलावरों ने महिला कार्यकर्ताओं को भी नहीं छोड़ा। वहीं संबित पात्रा ने कहा कि ममता बनर्जी के राज में तालिबानी ताकतें काम कर रही हैं। 

 

 

संबित पात्रा ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'अमित शाह की रैली में जिन बसों में बैठकर लोग आये थे, उन बसों को TMC के गुंडों द्वारा तोड़ने और जलाने की कोशिश की गई। पश्चिम बंगाल में ममता जी का जनमत समाप्त हो चुका है। बीजेपी के बढ़ते जनमत से ममता बनर्जी डर गई हैं। ये आगजनी की घटनाएं इस बात का पर्दाफाश करती हैं। TMC के गुंडों खुले आम पत्थरबाजी करते हैं, सड़कों पर आगजनी करते हैं और बसों में से बीजेपी के कार्यकर्ताओं को निकालकर पीटा जाता है और पुलिस मूक दर्शक बनकर देखती रहती है। एक ओर कोलकाता में लोकतंत्र को बचाने के लिए गठबंधन बनाकर रैली की जाती है वहीं दूसरी ओर भाजपा को रथ यात्रा नहीं निकालने दी जाती है, रैली नहीं करने दी जाती है। भाजपा की रैलियों में आग लगाना, लोगों पर हमला करना लोकतंत्र की रक्षा है या लोकतंत्र की हत्या है?'

 

 

वहीं बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इस हमले को लेकर TMC चीफ और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की कड़ी आलोचना की है। विजयवर्गीय ने कहा, 'हम ममता बनर्जी को चेतावनी देना चाहते हैं कि इस प्रकार बीजेपी का कार्यकर्ता न डरने वाला है, न झुकने वाला है। मैं यह कहना चाहता हूं कि ये घटना ममता जी को बहुत मंहगी पड़ेगी।'

इससे पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बंगाल के मिदनापुर में रैली को संबोधित करते हुए कहा, बंगाल को क्या हुआ है? सोनार बंगला का दावा किया गया था, उसका क्या हुआ? बंगाली लोग आज सोनार बंगला को ढ़ूढ़ रहे हैं। देश के लिए भले आम चुनाव नरेंद्र मोदी को फिर से एकबार प्रधानमंत्री बनाने के लिए हो, पर बंगाल के लिए यह चुनाव सोनार बंगला बनाने के ख्वाब को पूरा करने के लिए होगा।

शाह ने कहा, मैं ममता जी से पूछना चाहता हूं कि वह राज्यसभा में नागरिक संशोधन विधेयक का समर्थन करेंगी या नहीं? उन्हें यह बात बंगाल के लोगों को बतानी चाहिए। ममता घुसपैठियों और रोहिंग्याओं का स्वागत करती हैं, लेकिन खुद को बचाने आए शरणार्थियों के लिए यहां कोई जगह नहीं है! यह कैसे हो सकता है? मैं बंगाल में सभी शरणार्थियों को बताना चाहूंगा कि बीजेपी और नरेंद्र मोदी सरकार उन्हें नागरिकता प्रदान करेगी।