comScore

दिल्ली में पटाखे न फोड़ने की अपील का मिलाजुला असर

November 15th, 2020 21:00 IST
 दिल्ली में पटाखे न फोड़ने की अपील का मिलाजुला असर

हाईलाइट

  • दिल्ली में पटाखे न फोड़ने की अपील का मिलाजुला असर

नई दिल्ली, 15 नवंबर (आईएएनएस)। दिल्ली में दीपावाली के दौरान पटाखे न फोड़ने की अपील का मिलाजुला असर देखने को मिला है। दिल्ली सरकार की इस अपील के बावजूद रविवार को दिल्ली का एयर क्वालिटी इंडेक्स लगभग 500 के पार पहुंच गया। हालांकि पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष दिल्ली में पटाखों का कम प्रदूषण दर्ज किया गया है।

सफर के अनुसार, दिल्ली में कुल एक्यूआई 525 रहा, जबकि नोएडा में यह मुख्य प्रदूषक पीएम 10 के साथ 600 पार कर गया।

दिल्ली सरकार और नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने दिल्ली में 30 नवंबर तक पटाखे फोड़ने पर प्रतिबंध लगा रखा है। कम पटाखे फोड़े जाने का असर यह हुआ कि दीपावली के अगले दिन यानी रविवार को दोपहर बाद दिल्ली में वायु गुणवत्ता में मामूली सुधार आया है। रविवार दोपहर बाद दिल्ली में कई स्थानों पर यह 300 से भी कम आ गया। हालांकि दिल्ली का औसत एयर क्वालिटी इंडेक्स 400 से अधिक बना रहा।

इससे पहले शनिवार को और रविवार सुबह दमघोंटू धुएं की घनी चादर ने राष्ट्रीय राजधानी को घेर लिया। रविवार सुबह शहर में प्रदूषण आपातकालीन स्तर तक पहुंच गया था। यह जानकारी केंद्रीय पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के अधिकारियों ने दी।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, दिल्ली में प्रदूषण बढ़ रहा है, अगर हम पटाखे जलाते हैं, तो हम अपनी, अपने परिवार और पूरे दिल्ली के लोगों की जिंदगी के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं।

उन्होंने कहा, दिल्ली में इस वक्त कोरोना और प्रदूषण दोनों का बड़ा कहर छाया हुआ है। इस स्थिति से निपटने के लिए दिल्ली के लोग और दिल्ली सरकार मिलकर प्रयास कर रहे हैं। प्रदूषण की वजह से कोरोना की स्थिति ज्यादा खराब हो रही है। हर साल इन दिनों में प्रदूषण होता है, क्योंकि पराली जलने का धुआं दिल्ली की तरफ आता है।

इससे पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रदूषण मुक्त दीपावली का संदेश देते हुए, दीपावली की रात दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर में शाम दिवाली पूजन और मंत्रोचारण किया। इस दौरान मुख्यमंत्री का परिवार और मंत्रिमंडल के उनके सहयोगी भी इस पूजा में शामिल रहे।

जीसीबी/एसजीके

कमेंट करें
w1yNs