comScore

विधानसभा चुनाव 2019: आंध्र प्रदेश, सिक्किम, अरुणाचल, ओडिशा की 295 सीटों पर मतदान

विधानसभा चुनाव 2019: आंध्र प्रदेश, सिक्किम, अरुणाचल, ओडिशा की 295 सीटों पर मतदान

हाईलाइट

  • चार राज्यों में विधानसभा चुनाव के लिए मतदान जारी।
  • आंध्र प्रदेश, सिक्किम, अरुणाचल, ओडिशा में विधानसभा चुनाव।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। 2019 लोकसभा चुनाव के लिए पहले चरण के मतदान के साथ ही देश के चार राज्यों में विधानसभा चुनाव भी हुए हैं। आंध्र प्रदेश, सिक्किम, अरुणाचल और ओडिशा में विधानसभा चुनाव के लिए गुरुवार को सुबह सात बजे से मतदान शुरू हुआ। 

आंध्र प्रदेश की 175 विधानसभा सीटों, अरुणाचल प्रदेश की 60, सिक्किम की 32 और ओडिशा की 28 विधानसभा सीटों पर वोटिंग हुई। आंध्र प्रदेश से अलग होकर 2014 में तेलंगाना राज्य की स्थापना होने के बाद आंध्र प्रदेश में पहली बार विधानसभा चुनाव हुआ है। आंध्र प्रदेश की सभी 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटों पर पहले चरण में गुरुवार को ही मतदान संपन्न हो जाएगा। बता दें कि आज के मतदान के लिए मंगलवार की शाम को ही चुनाव प्रचार थम गया था। मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ है। कुछ सीटों पर शाम चार बजे तक, कुछ पर पांच बजे तक और कुछ सीटों पर छह बजे तक मतदान होगा।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने अमरावती में अपने परिवार के साथ वोट डाला। राज्य में नायडू सरकार के लिए भी परीक्षा का वक्त है, क्योंकि यहां लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ हो रहे हैं।

YSR कांग्रेस के चीफ जगन मोहन रेड्डी ने आंध्र प्रदेश के कडपा में अपना वोट डाला। इसके बाद उन्होंने कहा, मुझे पूरा विश्वास है कि लोग इस बार बदलाव चाहते हैं। जगन की पार्टी का मुकाबला चंद्रबाबू नायडू की टीडीपी से है।

आंध्र प्रदेश के IT मंत्री और टीडीपी नेता नारा लोकेश ने अमरावती में वोट डाला। उन्होंने कहा, मंगलागिरी विधानसभा सीट पर हमें बड़ी जीत मिलेगी, साथ ही पूरे राज्य में टीडीपी फिर से चुनाव जीतकर सत्ता पर काबिज होगी। लोकेश ने कहा, मुझे अपने मतदाताओं पर पूरा भरोसा है और जनता को मुझ पर पूरा विश्वास है। नारा लोकेश सूबे के मुख्यमंत्री चंद्रहबाबू नायडू के बेटे हैं।

आंध्र प्रदेश में जन सेना पार्टी के एक उम्मीदवार ने EVM फेंक दी, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। राज्य की 25 लोकसभा और 175 विधानसभा सीटों के लिए एक साथ वोटिंग हो रही है। यहां के अनंतपुर जिले में जनसेना उम्मीदवार मधुसूदन गुप्ता ने पोलिंग बूथ पर EVM को उठाकर जमीन पर पटक डाला, जिसके तुरंत बाद वहां मौजूद सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने EVM में खराबी की शिकायत वाले पोलिंग बूथों पर फिर से चुनाव कराने की मांग की है। उनका कहना है, खराबी की वजह से जो मतदाता एक बार बूथ से वापस चले गए वह फिर से वोट डालने नहीं आएंगे।

आंध्र प्रदेश में YSRCP और टीडीपी कार्यकर्ताओं के बीच पत्थरबाजी हुई है। बताया जा रहा है कि वोटिंग के दौरान दोनों गुटों के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। स्थिति पर काबू पाने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। 

आंध्र प्रदेश के अनंतपुर में मतदान के दौरान ही टीडीपी और YSRCP कार्यकर्ताओं के बीच खूनी संघर्ष हुआ। इसमें स्थानीय टीडीपी नेता चिंता भास्कर रेड्डी की मौत हो गई है। चिंता भास्कर रेड्डी अनंतपुर के तदीपत्री के स्थानीय नेता है। YSR कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ भिड़ंत में उन्हें गंभीर चोट आई थी, इसके बाद अस्पताल में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई। सीएम चंद्रबाबू नायडू ने टीडीपी नेता की राजनीतिक हिंसा में मौत पर गहरी नाराजगी जताई है। नायडू ने कहा, YSR कांग्रेस हिंसा का सहारा ले रही है क्योंकि वे लोग चुनाव हार रहे हैं। चंद्रबाबू नायडू ने पुलिस पर भी लोगों की शिकायत पर कार्रवाई न करने का आरोप लगाया है।

वहीं टीडीपी ने इस मामले को लेकर चुनाव आयोग को पत्र लिखकर संवेदनशील बूथों पर तुरंत सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाने की मांग की है। राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को लिखे गए पत्र में टीडीपी ने कहा, राज्य के डीजीपी को तुरंत मतदान केंद्रों की सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश दिया जाए।

कमेंट करें
BEIo6