comScore

राज्यसभा चुनाव से पहले गुजरात में हमारे विधायकों पर दबाव बना रही भाजपा : कांग्रेस

June 12th, 2020 19:00 IST
 राज्यसभा चुनाव से पहले गुजरात में हमारे विधायकों पर दबाव बना रही भाजपा : कांग्रेस

हाईलाइट

  • राज्यसभा चुनाव से पहले गुजरात में हमारे विधायकों पर दबाव बना रही भाजपा : कांग्रेस

नई दिल्ली, 12 जून (आईएएनएस)। कांग्रेस ने आरोप लगाया है कि भाजपा राज्यसभा की चार खाली सीटों के लिए होने वाले चुनाव से पहले गुजरात विधानसभा में उसके विधायकों पर दबाव बना रही है।

पार्टी के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने शुक्रवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, भाजपा सरकार ने चुनाव प्रक्रिया को भ्रष्ट बना दिया है और राज्य में कृत्रिम संख्या के निर्माण के लिए हर चीज का उपयोग कर रही है। भाजपा गंदी राजनीति में लिप्त है।

कांग्रेस ने कहा कि सदन की ताकत के अनुसार, राज्य में खाली हुई चार सीटों में से दो उनकी पार्टी द्वारा और दो भाजपा द्वारा जीती जाएंगी, लेकिन भाजपा ने पांचवां उम्मीदवार मैदान में उतार दिया है।

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि पार्टी के विधायक पंजभाई वंश को एक ऐसे मामले में चार बार पूछताछ के लिए बुलाया गया, जिससे उनका कोई लेना-देना नहीं है और शुक्रवार को भी उन्हें इसके लिए बुलाया गया।

कांग्रेस ने कहा कि पार्टी ने इस मुद्दे को चुनाव आयोग के सामने उठाया है।

पार्टी ने आरोप लगाया कि चुनाव के दौरान भाजपा उसके विधायकों को लुभाने या दबाव बनाने का प्रयास कर रही है।

सिंघवी ने कहा, भाजपा के पास जिस तरह के संसाधन हैं, वह कांग्रेस के साथ मेल नहीं खाते हैं। दूसरी बात यह कि संविधान के प्रति हमारे भीतर बहुत सम्मान है।

गुजरात में 19 जून को होने वाले राज्यसभा चुनाव के लिए पांच उम्मीदवार मैदान में हैं। कांग्रेस ने शक्ति सिंह गोहिल और भरत सिंह सोलंकी को मैदान में उतारा है, जबकि भाजपा ने पांचवें उम्मीदवार के रूप में नरहरि अमीन को मैदान में उतारा है।

कांग्रेस के तीन और विधायकों द्वारा इस्तीफा दिए जाने के बाद राज्य विधानसभा में इसके विधायकों की संख्या घटाकर 65 हो गई है। दूसरी सीट हासिल करने के लिए अब पार्टी को छह और वोटों की जरूरत है।

सिंघवी ने जहां राज्य में अपनी ताकत को उजागर नहीं किया, वहीं राज्य के कांग्रेस प्रभारी राजीव साटव ने कहा कि वे आराम से दूसरी सीट जीत जाएंगे।

कांग्रेस ने कहा कि विधानसभा में भाजपा के 103 विधायक हैं और राज्य में तीसरी सीट हासिल करने के लिए उसे तीन और मतों की आवश्यकता है। इसके लिए भाजपा को विपक्षी खेमे में अवैध तरीके से और अधिक सेंध लगानी होगी।

कमेंट करें
asUyR