comScore

गठबंधन के​ लिए अजित पवार से समर्थन लेना भाजपा की बड़ी भूल: खड़से

November 28th, 2019 08:10 IST

हाईलाइट

  • मंगलवार को फडणवीस ने सीएम बनने के 80 घंटे बाद इस्तीफा दिया
  • 28 नवंबर को शिवाजी पार्क में शाम 6.40 बजे उद्धव ठाकरे शपथ लेंगे

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र में भाजपा और NCP गठबंधन की सरकार गिर चुकी है। सीएम देवेंद्र फडणवीस के इस्तीफे के बाद भाजपा के नेता अजित पवार से समर्थन लेने को बड़ी भूल मान रहे हैं।

भाजपा वरिष्ठ नेता एकनाथ खड़से ने बुधवार को कहा कि ‘मेरी निजी राय है कि बीजेपी को अजीत दादा पवार का समर्थन नहीं लेना चाहिए था। वह एक बड़े सिंचाई घोटाले के आरोपी हैं और उन पर कई आरोप हैं। इस वजह से हमें उनके साथ गठबंधन नहीं करना चाहिए था।


उधर, एनसीपी नेता अजित पवार ने बुधवार को कहा कि वह अपनी पार्टी में बने रहेंगे और उन्हें मंत्रिमंडल में शामिल करने का फैसला मनोनीत मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे लेंगे। महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए पिछले सप्ताह भाजपा को समर्थन देने वाले अजित पवार ने कहा कि उनके एनसीपी में बने रहने के बारे में भ्रम ‘पैदा करने’ की कोई वजह नहीं है। अजित पवार ने विधान भवन परिसर में कहा कि अभी मेरे पास कहने के लिए कुछ नहीं है, मैं सही समय आने पर बोलूंगा। मैंने पहले भी कहा था कि मैं एनसीपी में हूं और मैं एनसीपी में ही रहूंगा। भ्रम पैदा करने की कोई वजह नहीं है।’

शनिवार को सुबह 8 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले देवेंद्र फडणवीस ने करीब 80 घंटे के बाद मंगलवार दोपहर इस्तीफा दे दिया था। इससे पहले उपमुख्यमंत्री अजित पवार भी इस्तीफा दे चुके थे। फडणवीस ने प्रेसवार्ता में कहा था कि अजित पवार ने कहा कि कुछ निजी कारणों से वे इस गठबंधन में नहीं रह सकते। उन्होंने अपना इस्तीफा मुझे सौंपा। इसके बाद हमारे पास बहुमत नहीं है। भाजपा ने पहले दिन से एक भूमिका ली थी कि हम किसी विधायक को नहीं तोड़ेंगे। हम हॉर्स ट्रेंडिंग नहीं करेंगे, इसलिए मैं इस्तीफा दे रहा हूं।

इस घटनाक्रम के बाद देर शाम को शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस गठबंधन ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात कर सरकार बनाने का दावा पेश किया। राज्यपाल ने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को 28 नवंबर को शपथ दिलाने की बाद कही। उद्धव ‌‌‌ठाकरे 28 नवंबर को शिवाजी पार्क में शाम 6.40 बजे मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

कमेंट करें
fx8P6