comScore

डिफेंस : भारत-पाक बॉर्डर पर दिखे संदिग्ध ड्रोन, BSF ने फायरिंग की

डिफेंस : भारत-पाक बॉर्डर पर दिखे संदिग्ध ड्रोन, BSF ने फायरिंग की

हाईलाइट

  • पंजाब के फिरोजपुर में भारत-पाक सीमा पर ड्रोन जैसी वस्तुएं देखी गईं
  • इन वस्तुओं के दिखाई देने के बाद बीएसएफ के जवानों ने इन पर फायरिंग की
  • बीएसएफ के अधिकारियों ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी

डिजिटल डेस्क, फिरोजपुर। पंजाब के फिरोजपुर में भारत-पाक सीमा पर ड्रोन जैसी वस्तुएं देखी गईं। इन वस्तुओं के दिखाई देने के बाद बीएसएफ के जवानों ने इन पर फायर किया। सोमवार रात करीब 8.48 बजे और 11 बजे शाम को शामेकी सीमा चौकी के पास तेंदिवाला गांव में वस्तुओं को देखा गया। बीएसएफ के अधिकारियों ने मंगलवार को इसकी जानकारी दी।

ड्रोन थे या कुछ और?
बीएसएफ के उप महानिरीक्षक, संदीप चानन ने कहा कि यह पता नहीं चल सका है कि वे ड्रोन थे या कुछ और। अधिकारी ने कहा कि 136 वीं बटालियन के बीएसएफ के जवानों ने उन्हें नीचे उतारने के लिए गोलीबारी की। हालांकि, बीएसएफ और पंजाब पुलिस के संयुक्त तलाशी अभियान में वस्तुओं को बरामद नहीं किया जा सका।

चीनी ड्रोन किए थे बरामद
10 जनवरी को, पंजाब पुलिस ने एक आर्मी नायक और दो अन्य लोगों को उनके पाकिस्तानी साथियों की मिलीभगत से जीपीएस-फिट ड्रोन का उपयोग करके सीमा पार से ड्रग्स और हथियारों की तस्करी करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। पंजाब पुलिस के महानिदेशक दिनकर गुप्ता ने बताया था कि पकड़े गए लोगों से दो चीन निर्मित ड्रोन और अन्य सामान बरामद किया गया है।

इससे पहले पंजाब के पुलिस प्रमुख दिनकर गुप्ता ने 24 सितंबर को बताया था कि पाक से 9-16 सितंबर के बीच करीब 8 चीनी ड्रोन के जरिए 80 किलो विस्फोटक सामग्री पंजाब और जम्मू-कश्मीर भेजी गई। पाक के आतंकी संगठन पंजाब और जम्मू-कश्मीर में बड़े धमाकों की साजिश रच रहे हैं। इसके लिए पाक सेना और आईएसआई आतंकी संगठन खालिस्तान जिंदाबाद फोर्स (केजेडएफ) का समर्थन कर रही है।

इसके बाद 7 अक्टूबर को भी बीएसएफ ने हुसैनीवाला क्षेत्र में पाकिस्तान की तरफ से आए पांच ड्रोन का पता लगाया था। पाकिस्तानी ड्रोन ने भारतीय सीमा में 4-5 किमी अंदर तक उड़ान भरी थी। बीएसएफ ने कई फायर कर ड्रोन गिराने की कोशिश की, पर 300 से 400 फीट की ऊंचाई पर होने के कारण वह सफल नहीं हो पाई।

कमेंट करें
2saj0