• Dainik Bhaskar Hindi
  • National
  • 15 people including the Chief of the three armies of the country, Bipin Rawat were aboard, 13 people died, DNA test will identify

आर्मी हेलिकॉप्टर क्रैश: नहीं रहे देश के पहले सीडीएस बिपिन रावत, भारतीय सेना ने उनके निधन की पुष्टि की

December 8th, 2021

हाईलाइट

  • विपिन रावत अपनी पत्नी के साथ थे सवार

डिजिटल डेस्क, कन्नूर। तमिलनाडु के कुन्नूर में आर्मी का एक हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। 14 लोग सवार थे। सूत्रों के मुताबिक 13 लोगों के शव मिल चुके हैं। बिपिन रावत और उनकी पत्नी नहीं रहे। इंडियन एयरफोर्स ने ट्वीट कर इस बात की आधिकारिक पुष्टि की है। जनरल बिपिन रावत की पत्नी और 13 अन्य की इस हादसे में मौत हो गई। ग्रुप कैप्टन वरूण सिंह एस सी फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं और गंभीर हालत में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक जो शव मिले है उनमें एक शव बिपिन रावत की पत्नी का भी है। क्रैश होने वाला हेलिकॉप्टर एयरफोर्स का एमआई17-वी5 था। हेलिकॉप्टर में सीडीएस बिपिन रावत अपनी पत्नी के साथ थे सवार। कुल 14 लोग सवार थे। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह इस हादसे की जानकारी पीएम नरेंद्र मोदी को दे चुके हैं। वे कल इस संबंध में सदन में जानकारी देंगे।                            

इस हादसे के बाद वायुसेना ने जांच के आदेश दिए हैं। 

ये लोग थे सवार
हेलिकॉप्टर में सीडीएस बिपिन राव, उनकी पत्नी मधुलिका रावत, ब्रिगेडियर एल एस लिडेर, लेफ्टिनेंट कर्नल हरजिंदर सिंह, एन के गुरसेवक सिंह, एनके जितेंद्र कुमार, L/NK विवेक कुमार, L/NK बी साय तेजा, हवलदार सतपाल सवार थे।

FGEs-YS6-WUAEDiqi

                                                                         

हेलिकॉप्टर क्रैश कैसे हुआ फिलहाल इसकी जानकारी नहीं है। जिस हेलिकॉप्टर में वीआईपी सवार होते हैं उन्हें ट्विन इंजन यानि दो इंजन का रखा जाता है। ताकि, किसी भी स्थिति में उन्हें मंजिल तक पहुंचा जा सके। इसके बावजूद कुन्नूर के घने जंगलों में ये हेलिकॉप्टर क्रैश हो गया। 

देश के पहले सीडीएस थे बिपिन रावत

भारत के पहले और वर्तमान रक्षा प्रमुख या चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) हैं। उन्होंने 1 जनवरी 2020 को रक्षा प्रमुख के पद का भार ग्रहण किया। इससे पूर्व वो भारतीय थलसेना के प्रमुख थे।