रियायती दर पर राशन : केंद्र सरकार का नया प्लान, बेघर, आश्रय विहीनों को जल्द मिलेगा सब्सिडी वाला खाना

December 31st, 2021

हाईलाइट

  • पहले ट्रायल के लिए रखी जाएगी योजना

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केंद्र जल्द ही एक ऐसी योजना लाने जा रहा है, जो बेघर लोगों और जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, उन्हें रियायती दर पर राशन मुहैया कराएगी।

खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण सचिव सुधांशु पांडेय ने गुरुवार को मीडिया कांफ्रेंस में बताया, यह प्रक्रिया जारी है, और एक प्रणाली का विकास अपने अंतिम चरण में है। फिर इसे ट्रायल के लिए रखा जाएगा। पूरी प्रणाली मूल रूप से सभी बेघर, आश्रय-हीन निराश्रितों की पहचान के लिए है, जिनके पास राशन कार्ड नहीं हो सकते हैं।

पांडे ने कहा राज्य सरकारों ने पहचान की कमी या घर के पते की कमी के कारणों से उन्हें राशन कार्ड जारी नहीं किया होगा। इन सभी मुद्दों को संबोधित किया जाएगा। उपभोक्ता मामले, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा कि नई और आगामी प्रणाली जो संस्थागत होने जा रही है, वास्तव में उस सबसे कमजोर वर्ग की आबादी के अंतिम अंतराल को भर देगी।

अधिकारी ने कहा कि इसकी औपचारिक घोषणा बाद में की जाएगी। एक अन्य अधिकारी ने सब्सिडी के बारे में एक सवाल के जवाब में बताया, केंद्र इस वित्त वर्ष के लिए 4 लाख करोड़ रुपये से कम की सब्सिडी प्रदान करेगा। इसमें 2.25 लाख करोड़ रुपये की नियमित सब्सिडी और प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना (पीएमजीकेएवाई) के तहत दी जाने वाली 1.47 लाख करोड़ रुपये की अन्य सब्सिडी शामिल है। पिछले साल दी गई सब्सिडी 5.29 लाख करोड़ रुपये थी।

 

(आईएएनएस)