दैनिक भास्कर हिंदी: ममता ने साधा पीएम पर निशाना, कहा- चंद्रयान-2 आर्थिक मंदी से ध्यान भटकाने की कोशिश

September 7th, 2019

हाईलाइट

  • ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर चंद्रयान-2 के जरिए लोगों का ध्यान भटकाने का आरोप लगाया है
  • ममता ने कहा, 'आर्थिक मदी से ध्यान हटाने के लिए पीएम चंद्रयान का ढिंढोरा पीट रही है
  • ममता ने कहा, लगता है मोदी के सत्ता में आने से पहले इस तरह के मिशन लॉन्च नहीं हुए

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर चंद्रयान-2 के जरिए लोगों का ध्यान भटकाने का आरोप लगाया है। ममता ने कहा कि 'आर्थिक मदी से ध्यान हटाने के लिए मोदी सरकार चंद्रयान-2 मिशन का ढिंढोरा पीट रही है। ऐसा लग रहा है मानो चंद्रयान का लॉन्च देश का पहला मिशन है। पीएम मोदी के सत्ता में आने से पहले जैसे कोई इस तरह के मिशन लॉन्च ही नहीं हुए।'

बता दें कि अगर भारत अपने इस मिशन में कामयाब हो जाता है तो वह अमेरिका, रूस और चीन के बाद चंद्रमा पर सॉफ्ट लैंडिंग कराने वाला चौथा देश बन जाएगा। जबकि चंद्रमा के साउथ पोल पर अपने यान को लैंड कराने वाला पहला देश होगा।  चंद्रयान-2 का लैंडर विक्रम शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात 1.30 से 2.30 बजे के बीच चांद पर उतरेगा। रोवर प्रज्ञान लैंडर विक्रम से सुबह 5.30 से 6.30 के बीच बाहर आएगा।

चंद्रमा की सतह पर चंद्रयान-2 की लैंडिंग देखने के लिए पीएम मोदी हाईस्कूल के करीब 60-70 विद्यार्थियों के साथ बेंगलुरु स्थित इसरो केंद्र में मौजूद रहेंगे। लैंडिंग को लेकर बेहद उत्साहित पीएम ने 130 करोड़ देशवासियों से इस नए इतिहास का गवाह बनने की अपील की है। पीएम मोदी ने इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई दी और देशवासियों से अपील की है कि, लोग देर रात चंद्रयान-2 की लैंडिंग जरूर देखें और इस दौरान अपनी फोटो क्लिक कर ट्वीट करें। पीएम मोदी इनमें से कुछ तस्वीरों को रिट्वीट करेंगे।

पीएम मोदी ने कहा, 'भारत के इस ऐतिहासिक अंतरिक्ष कार्यक्रम को देखने के लिए मैं बहुत उत्साहित हूं और खुशी है कि मैं बेंगलुरु के ISRO सेंटर में रहूंगा। उन्होंने कहा, जिन युवाओं के साथ मैं इस विशेष पल का साक्षी बनूंगा उन्होंने ISRO का क्विज जीता है और बेहद प्रतिभाशाली हैं। इस क्विज में बड़ी संख्या में युवाओं का हिस्सा लेना दिखाता है कि उनमें विज्ञान और अंतरिक्ष में बेहद रुचि है।'

ये कोई पहला मौका नहीं है जब ममता बनर्जी ने ममता सरकार पर इस तरह का तीखा हमला बोला हो। इससे पहले भी वह कई बार मोदी सरकार पर निशाना साधती रही है। हाल ही में ममता सरकार ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ प्रस्ताव पेश किया था। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को छोड़कर अन्य सभी दलों ने प्रस्ताव का समर्थन किया और इस प्रस्ताव को पारित कर दिया। 

खबरें और भी हैं...