comScore

छत्तीसगढ़: बलरामपुर में मिली महिला की अधजली लाश, 16 साल की नाबालिग भी हैवानियत की शिकार

छत्तीसगढ़: बलरामपुर में मिली महिला की अधजली लाश, 16 साल की नाबालिग भी हैवानियत की शिकार

हाईलाइट

  • महिला की अब तक नहीं हो पाई शिनाख्त, पुलिस जांच में जुटी
  • इससे पहले हैदराबाद में प्रियंका रेड्डी का मिला था जला शव

डिजिटल डेस्क, रायपुर। तेलंगाना के हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर के साथ हुई दिल दहलाने वाली घटना का विरोध देशभर में हो रहा है। घटना के विरोध में सोमवार को हैदराबाद, पटना और अन्य कई शहरों में लोगों ने कैंडल मार्च निकाला।बावजूद इसके महिलाओं के साथ आपराधिक घटनाएं रुकने का नाम नहीं ले रही हैं। सोमवार को छत्तीसगढ़ में मामले सामने आए हैं। पहला मामला बलरामपुर का है, यहां एक महिला का अधजला शव बरामद हुआ है। वहीं एक अन्य मामले में गौरेला इलाके में एक 16 साल की नाबालिग के साथ सामुहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। नाबालिग बालिका की हालत नाजुक बनी हुई है। पुलिस ने मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है।

महिला का अधजला शव मिला

जानकारी अनुसार छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले के राजपुर के मुरका गांव में महिला का अधजला शव मिलने के बाद हड़कंप मच गया। इस मामले पर बलरामपुर के एसपी टीआर कोशिमा बताया कि अब तक महिला के शव की शिनाख्त नहीं हो सकी है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट भी जल्द सामने आएगी। अभी यह साफ नहीं हो सका है कि मामला रेप का है या नहीं। पुलिस ने ऐसी आशंका जताई है कि महिला के शव को बाहर से लाकर यहां छोड़ दिया गया है। मामले की जांच जारी है।

नाबालिग को बनाया हवस का शिकार

वहीं छत्तीसगढ़ के गौरेला इलाके में एक 16 वर्षीय लड़की के साथ 2 लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया और उसके साथ बुरी तरह से मारपीट की। पेंड्रा एडिशनल एसपी प्रतिभा तिवारी ने बताया कि लड़की का अस्पताल में इलाज चल रहा है। उसके बयान के आधार पर, हमने 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। आगे की जांच जारी है।

इससे पहले बुधवार को तेलंगाना के हैदराबाद में पशु चिकित्सक प्रियंका रेड्डी की रेप के बाद हत्या कर दी गई थी। हत्यारों ने प्रियंका रेड्डी के शव को जला भी दिया था। इस मामले में पुलिस ने चार आरोपियों को भी गिरफ्तार किया है। इस घटना को लेकर पूरे देश में आक्रोश है और लोग सड़कों पर उतर आए हैं। इस घटना के बाद से महिलाओं की सुरक्षा का मुद्दा तेज हो गया है और लोग आरोपियों को जल्द से जल्द फांसी देने की मांग कर रहे हैं। यह मामला संसद में भी उठाया गया और केंद्रीय रक्षामंत्री को महिलाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर जवाब देना पड़ा।

कमेंट करें
ITVDY