दैनिक भास्कर हिंदी: मनोहर पर्रिकर...देश के पहले ऐसे मुख्यमंत्री, जिन्होंने आईआईटी से किया ग्रेजुएशन

March 17th, 2019

हाईलाइट

  • रविवार रात 8 बजे आई निधन की खबर
  • स्कूल के दिनों से ही जुड़े रहे आरएसएस से
  • देश के रक्षा मंत्री की कुर्सी भी संभाली

डिजिटल डेस्क, पणजी। गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का रविवार शाम करीब 8 बजे निधन हो गया है। गोवा के मापुसा में 13 दिसंबर 1955 को जन्मे पर्रिकर को ईमानदार छवि वाले नेता के तौर पर जाना जाता था। वे अपने सादगी भरे जीवन के लिए भी बेहद चर्चित थे। पर्रीकर के नाम एक और उपलब्धि है, वो देश के पहले ऐसे मुख्यमंत्री थे, जिन्होंने आईआईटी से ग्रेजुएशन किया था।

पर्रिकर 2000 से 2005 और 2012 से 14 तक गोवा के मुख्यमंत्री रहे। इसके बाद 2014 में उन्हें मोदी सरकार में रक्षा मंत्री बना दिया गया था, लेकिन 2017 में उन्होंने फिर गोवा के मुख्यमंत्री की कुर्सी संभाल ली, पर्रिकर को हिंदी और अंग्रेजी के अलावा मराठी भाषा का भी अच्छा ज्ञान था। 

स्कूल के दिनों से ही पर्रिकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े हुए थे, उन्होंने पढ़ाई के साथ-साथ आरएसएस की युवा शाखा में भी काम करना शुरू कर दिया था। उन्होंने 1994 को पहली बार भाजपा के  टिकट पर गोवा की पणजी विधानसभा सीट से चुनाव  लड़ा था, जिसमें उन्हें जीत मिली थी, पर्रीकर गोवा की राजनीति में विपक्ष के नेता की भूमिका भी निभा चुके हैं।

पर्रिकर के दो बच्चे हैं, एक का नाम उत्पल तो दूसरे का नाम अभिजीत पर्रिकर है। उत्तपल इंजीयर हैं जबकि अभिजीत व्यापार करते हैं, उनके एक भाई भी हैं, जिनका नाम अनधूत पर्रिकर है। मनोहर पर्रिकर के पहली बार मुख्यमंत्री बनने के कुछ समय बाद ही उनकी  पत्नी मेधा पर्रिकर की मृत्यु हो गई थी।

 

 

 

 


 

खबरें और भी हैं...