दैनिक भास्कर हिंदी: देश को संगठित करने वाले मोहन भागवत कौन है, आप भगवान है क्या - राहुल गांधी

September 22nd, 2018

हाईलाइट

  • कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मोहन भागवत पर निशाना
  • देश को संगठित करने वाले मोहन भागवत कौन होते हैं ?
  • देश के लोगों पर एक ही तरह की विचारधारा थोंपी जा रही है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने संघ प्रमुख मोहन भागवत पर निशाना साधा है। राहुल ने कहा, मैं मिस्टर भागवत से पूछना चाहता हूं कि देश को संगठित करने का ठेका लेने वाले आप कौन होते हैं ? आप कोई भगवान हैं क्या ? राहुल शनिवार को दिल्ली में शिक्षाविदों के एक कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कहा, मैंने एक बार मोहन भागवत को सुना था वह कर रहे थे हम पूरे देश को संगठित करने जा रहे है। 

राहुल ने कहा, मैं मोहन भागवत को एक बात स्पष्ट करना चाहता हूं कि ये देश अपने आप चलेगा। आपको ठेका लेने की जरूरत नहीं है। कुछ ही महीनों में भागवत जी का सपना चकनाचूर हो जाएगा। राहुल गांधी ने कहा कि देश को किसी एक विचारधारा से नहीं चलाया जा सकता। देश में ऐसा लग रहा है कि एक विचारधारा लोगों पर थोंपी जा रही है। ये विचारधारा थोपने का काम संघ द्वारा किया जा रहा है। आज किसान, मजदूर, नौजवान, हर कोई कह रहा है कि 1.3 अरब का देश किसी एक खास विचारधारा के जरिए नहीं चलाया जा सकता। 

शिक्षाविदों के कार्यक्रम को संबोधित करते हुए राहुल ने कहा, आगामी लोकसभा चुनाव के लिए बनने वाले घोषणापत्र पर इसका स्पष्ट रूप से उल्लेख होगा कि सरकार बनने के बाद प्रतिवर्ष कितना खर्च शिक्षा पर किया जाएगा। उन्होंने शिक्षाविदों के साथ संवाद कार्यक्रम में कहा, ‘भारत की शिक्षा व्यवस्था के बारे में कुछ चीजों पर समझौता नहीं हो सकता। राहुल ने कहा, ‘शिक्षा व्यवस्था में बढ़ती लागत एक समस्या है। यह वहां पहुंच चुका है जो अस्वीकार्य है।’ 

 

खबरें और भी हैं...