दैनिक भास्कर हिंदी: सहकारी बैंक घोटाला: शरद पवार जाएंगे ईडी दफ्तर, बोले- जांच में करूंगा पूरा सहयोग

September 25th, 2019

हाईलाइट

  • शरद पवार जाएंगे ED के दफ्तर
  • जांच में दूंगा पूरा सहयोग- शरद
  • केंद्र सरकार पर साधा निशाना
  • बोले किसी बैंक का संस्थागत सदस्य नहीं रहा हूं

डिजीटल डेस्क मुम्बई। सहकारी बैंक घोटाले में अपना नाम आने के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने मीडिया के सामने सफाई दी। उन्होंने आज (बुधवार) एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान उनपर लगे बैंक घोटाले के आरोप पर कहा कि वह 27 सितंबर को ED के दफ्तर जाएंगे और  ED की जांच मेंं भी पूरा सहयोग करेंगे।

ED ने शराद पवार के साथ-साथ अन्य 70 लोगों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग समेत अन्य मामलों में केस दर्ज क्या है। शरद ने बताया कि ऐसा उनके साथ पहली बार नहीं हुआ है। इससे पहले साल 1980 में उन्हें एक आंदोलन के दौरान गिरफ्तार किया गया था।

NCP अध्यक्ष ने कहा कि मुझे संविधान और न्याय पर विश्वास है। महाराष्ट्र ने हमें दिल्ली की सत्ता के सामने झुकना नहीं सिखाया। उन्होंने कहा 'मैं अपने खिलाफ कार्रवाई के विवरण में नहीं जाना चाहता। विधानसभा चुनाव का समय है और मैं पूरे राज्य का दौरा कर रहा हूं। मुझे अपने महाराष्ट्र दौरे से अच्छी प्रतिक्रिया मिल रही है।'

बता दें कि बैंक घोटाले का यह मामला अभी सुप्रीम कोर्ट में है। दरअसल 22 अगस्त को बॉम्बे हाई कोर्ट ने मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा को महाराष्ट्र स्टेट को-ऑपरेटिव बैंक घोटाले में पूर्व उप मुख्यमंत्री अजित पवार समेत 70 लोगों पर मामला दर्ज करने का आदेश दिया था। 

पवार ने बताया कि ED द्वारा उनके खिलाफ मामला दर्ज करने की बात मी़डिया के माध्यम से उन्हें पता चली। साथ ही उन्होंने कहा कि मैं आज तक किसी कोऑपरेटिव या किसी बैंक का संस्थागत मैम्बर नहीं रहा हूं। पवार ने कहा कि 'बैंक के बारे में जांच करना एजेंसी का अधिकार है। उन्हें जिन भी सबूतों की आवश्यकता है, उसमें जांच करने वाली एजेंसी को मैं पूरी तरफ से सहयोग दूंगा।'