comScore

Corona epidemic: देश में 3 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित, चीन और कनाडा से आगे निकला महाराष्ट्र

Corona epidemic: देश में 3 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित, चीन और कनाडा से आगे निकला महाराष्ट्र

हाईलाइट

  • अमेरिका में सबसे तेज 82 दिनों में 3 लाख मामले हुए, भारत में इतने मामले होने में 135 दिन लगे
  • देश में अब तक डेढ़ लाख से ज्यादा मरीज ठीक हुए, रूस का सबसे बेहतर रिकवरी रेट

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 3 लाख के पार हो गई है। भारत अब दुनिया का चौथा सबसे संक्रमित देश बन चुका है। भारत में संक्रमण के फैलने की रफ्तार का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि यहां बीते 25 दिन में दो लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से एक लाख तो मात्र बीते 10 दिन में संक्रमित हुए। बता दें कि 30 जनवरी को देश में कोरोना का पहला मामला सामने आया था। इसके 110 दिनों बाद यानी 10 मई को यह संख्या बढ़कर एक लाख हुई थी। हालांकि, दिल्ली एम्स के डायरेक्टर ने कहा है कि कोरोना पर हमे मानना होगा कि केस इसलिए बढ़ रहे हैं, क्योंकि देश की आबादी अधिक है। अगर हम प्रति 10 लाख आबादी के लिहाज से तुलना करें तो केस बहुत कम हैं।

राहत की बात यह है कि सवा सौ करोड़ की आबादी होने के बावजूद अन्य देशों के मुकाबले भारत में कोरोना की रफ्तार काफी धीमी है। अमेरिका में सबसे तेज 82 दिन में तीन लाख से ज्यादा लोग कोरोना पॉजिटिव हो गए थे। भारत में यह आंकड़ा 135 दिन में पहुंचा। दिल्ली एम्स के डायरेक्टर ने कहा है कि कोरोना पर हमे मानना होगा कि केस इसलिए बढ़ रहे हैं, क्योंकि देश की आबादी अधिक है। अगर हम प्रति 10 लाख आबादी के लिहाज से तुलना करें तो केस बहुत कम हैं।

सरकारी आंकड़े
शुक्रवार सुबह स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी रिपोर्ट के मुताबिक, बीते 24 घंटों के दौरान 10,956 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं और 356 लोगों की मौत हुई है। जिसके बाद देश में कोरोना के कुल मामले बढ़कर 2 लाख 97 हजार 535 हो गए हैं। अब तक 8498 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 1 लाख 47 हजार 195 मरीज इलाज के बाद स्वस्थ हुए हैं। 1 लाख 41 हजार 842 मामले सक्रिय हैं।

देश में अब तक डेढ़ लाख से ज्यादा लोग ठीक हुए
राहत की बात है कि दूसरे देशों के मुकाबले भारत का रिकवरी रेट काफी बेहतर है। यहां अब तक तीन लाख मरीजों में से डेढ़ लाख मरीज ठीक हो चुके हैं। रिकवरी रेट 49.34% है। मतलब हर 100 में से 49 मरीज ठीक हो रहे हैं। यूके में सबसे कम रिकवरी रेट है। यहां अभी तक 2.93 लाख मरीजों में सिर्फ 0.076% मरीज ही ठीक हो पाए हैं। सबसे प्रभावित चार देशों की लिस्ट में रूस का सबसे अच्छा रिकवरी रेट है। यहां 51.97% की दर से मरीज ठीक हो रहे हैं। अमेरिका का रिकवरी रेट 39.05% है। 

महाराष्ट्र में एक लाख के पार संक्रमितों की संख्या
महाराष्ट्र में कोरोना संक्रमितों की संख्या एक लाख पार पहुंच गई है। राज्य में कोरोना वायरस से 1 लाख 1 हजार 141 मरीज संक्रिमत हो गए हैं। शुक्रवार को कोरोना के 3493 नए मरीज मिले। जबकि 127 मरीजों की मौत हो गई। वहीं 1718 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिल गई। प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने बताया कि राज्य में 49 हजार 616 कोरोना के एक्टिव केस हैं। 47 हजार 796 मरीज कोरोना से ठीक हो चुके हैं। कोरोना के कारण 3717 मरीजों की मौत हुई है जबकि 12 मरीजों की मृत्यु अन्य कारणों से हुई है। राज्य भर में कोरोना के मरीजों का ठीक होने का प्रमाण 47.3 प्रतिशत है जबकि मृत्यु दर 3.7 प्रतिशत है। टोपे ने बताया कि शुक्रवार को मुंबई में 90, ठाणे में 11, कल्याण डोंबिवली में 3, वसई-विरार में 1, मीरा भाईंदर में 1, नाशिक में 2, धुलिया में 1, पुणे में 12, सांगली में 3, औरंगाबाद में 2 और अमरावती में 1 मरीज की मौत हुई है। टोपे ने बताया कि नागपुर में 969 मरीजों में से 421 एक्टिव केस हैं। औरंगाबाद में 2457 मरीजों में से 972 एक्टिव केस और अकोला में 979 मरीजों में से 433 एक्टिव केस है।

कमेंट करें
Y4qr7