comScore

CoronaVirus: देश में कोरोना वायरस से पहली बार एक दिन में 3 लोगों की मौत, कुल 7 ने गवाई जान


हाईलाइट

  • देश में कोरोना वायरस के कारण अब तक 6 की मौत
  • सभी छह मरीज डायबिटीज से थे पीड़ित
  • देश में अब तक 348 मरीज पॉजिटिव

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसके साथ ही आज (रविवार) पहली बार एक दिन में कोरोना से संक्रमित तीन लोगों की मौत की पुष्टि हुई है। इसके साथ अब भारत में कोरोना के कारण होने वाली मौत का आंकड़ा 7 पहुंच गया है। गौर करने वाली बात यह है कि ये इनमें से 6 डायबि​टीज के पेशेंट थे। वहीं शाम 5 बजे तक के आंकड़ों के अनुसार देश में 364 लोग संक्रमित हो चुके हैं। इनमें से 28 लोग स्वस्थ होकर घर लौट चुके हैं, जबकि 329 मरीज अब भी अस्पताल में भर्ती हैं।

शनिवार देर रात मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में 63 साल के कोरोना पॉजिटिव मरीज ने दम तोड़ दिया। वहीं पटना में कोरोना से पीड़ित 38 साल के सेफ अली की मौत हुई है। कोरोना वायरस से संक्रमित एक बुजुर्ग की इलाज के दौरान मौत हो गई है। ये मामला गुजरात के सूरत का है। ये गुजरात में कोरोना से होने वाली ये पहली मौत है। 

कतर से लौटा था सैफ
बिहार के मुख्य सचिव दीपक कुमार ने बताया कि ICMR ने सूचना दी है कि दो पॉजिटिव मामले मिले हैं। उनके से 38 साल के सेफ अली की मौत शनिवार सुबह ही हो गई थी, वह मुंगेर का रहने वाला था। उसके सैंपल का रिजल्ट अब आया है। हाल ही में वह कतर से आया था और 20 मार्च को एम्स में भर्ती हुआ था। सैफ डायबिटीज का मरीज था, उसकी किडनी भी खराब थी। दूसरी महिला अभी एम्स में भर्ती है।

महाराष्ट्र में दूसरी मौत
बताया जा रहा है कि मुंबई में शनिवार रात 63 साल के जिस मरीज की मौत हुई, उन्हें पहले से ही डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर और दिल की बीमारी थी। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के कारण यह दूसरी मौत थी। इससे पहले 17 मार्च को मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में ही कोरोना वायरस से पीड़ित 64 साल के एक बुजुर्ग ने दम तोड़ दिया था। बता दें कि महाराष्ट्र में राज्य में कोरोनावायरस की स्थिति गंभीर हो गई है। बीते 24 घंटे में 10 नए मामले सामने आए हैं। इनमें से 6 मुंबई और 4 पुणे में हैं। यहां अब तक 74 मरीज मिल चुके हैं।राज्य के सभी स्कूल-कॉलेज, जिम और स्वीमिंग पूल बंद कर दिए गए हैं। निजी क्लासेस, परीक्षाएं टालने का भी आदेश दिया गया है। सरकार ने किसी भी तरह के धार्मिक या सामाजिक कार्यक्रमों पर पाबंदी लगा दी है। राज्य के कई मंदिरों को भक्तों के लिए बंद कर दिया गया है। हाईकोर्ट में सिर्फ 2 घंटे और जिला अदालतों में 3 घंटे ही काम होगा।

सूरत के मृतक ने दिल्ली और जयपुर की यात्रा की थी
रिपोर्ट के मुताबिक, 67 साल के एक बुज़ुर्ग की सूरत के एक निजी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। कोरोना से पीड़ित ये शख्स दिल्ली और जयपुर से ट्रेन से यात्रा कर सूरत आया था। मरीज पहले से ही किडनी और अस्थमा की बीमारी से जूझ रहा था। बता दें कि गुजरात में पहला कोरोना पॉजिटिव केस सूरत से ही सामने आया था और यहां पर पहली मौत भी सूरत में हुई है।
 

कमेंट करें
VXGkp