दैनिक भास्कर हिंदी: क्राइम ब्रांच के सामने पेश नहीं हुए दाती महाराज, भाइयों ने भी किया था शिष्या से रेप

June 19th, 2018

हाईलाइट

  • धर्मगुरु दाती महाराज सोमवार को भी वह क्राइम ब्रांच के सामने पेश नहीं हुए।
  • क्राइम ब्रांच की ओर से दाती महाराज के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया जा सकता है।
  • दाती महाराज के तीन सौतेले भाइयों ने भी युवती से दुष्कर्म किया था।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। जाने-माने ज्योतिषाचार्य और धर्मगुरु दाती महाराज रेप के आरोप में फंसने के बाद से लगातार पुलिस से भागते फिर रहे हैं। सोमवार को भी वह क्राइम ब्रांच के सामने पेश नहीं हुए। अब क्राइम ब्रांच की ओर से दाती महाराज के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया जा सकता है। शिष्या द्वारा रेप का आरोप लगाए जाने के बाद से दाती महाराज सिर्फ मीडिया के सामने आते रहे हैं। दाती महाराज के वकील जरूर क्राइम ब्रांच के सामने पेश हुए और पेशी के लिए दो दिन के वक्त की मांग की। इस मामले में एक और बड़ा खुलासा सामने आया है, बताया जा रहा है कि दाती महाराज के तीन सौतेले भाइयों ने भी युवती से दुष्कर्म किया था। 


आश्रमों पर पुलिस ने की छापेमारी

दाती महाराज के वकील ने कहा कि वह मंगलवार को जोधपुर कोर्ट में जमानत याचिका दायर करेंगे। बीते शुक्रवार को दिल्ली के साकेत कोर्ट ने और शनिवार को दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने उनके खिलाफ वारंट जारी किया था। इस बीच दिल्ली पुलिस ने दाती महाराज के दिल्ली और राजस्थान के पाली स्थित आश्रमों पर छापेमारी भी की। पुलिस टीम अपने साथ पीड़िता और उसके पिता को भी लेकर पहुंची थी। पुलिस ने आश्रम के अंदर करीब चार घंटे तक सर्च ऑपरेशन किया। 


बता दें कि पुलिस ने दाती महाराज के राजस्थान में स्थित आश्रम से कुछ संदिग्ध चीजें बरामद की हैं। पुलिस को आश्रम के अंदर 6 संदिग्ध कमरे में मिले। इन कमरों में से पुलिस ने कुछ सामान भी बरामद किया है। पुलिस कमिश्नर आरआर उपाध्याय ने बताया, 'हमने पूरे आश्रम की छानबीन की और कुछ चीजें जब्त की हैं। आश्रम मैनेजमेंट से सभी CCTV कैमरों की रिकॉर्डिंग भी मांगी गई है।'


दाती के सौतेले भाइयों ने भी किया रेप

पीड़िता ने पुलिस को उस जगह की पहचान कराई, जहां उसके साथ दो साल पहले रेप हुआ था। क्राइम ब्रांच के वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, दाती महाराज के आरोपित सौतेले भाइयों के नाम अनिल, अशोक और अर्जुन हैं। ये तीनों सगे भाई हैं और दाती महाराज के दिल्ली तथा राजस्थान स्थित आश्रम, कॉलेज और अस्पताल के प्रबंधन का कामकाज देखते हैं। इसके अलावा ये तीनों रुपयों का लेखा-जोखा भी रखते हैं। क्राइम ब्रांच ने दाती व उसके तीनों सौतेले भाइयों को नोटिस भेजकर बीते शनिवार को ही जांच में शामिल होने को कहा था, लेकिन कोई भी जांच में शामिल नहीं हुआ।

 

पीड़ित युवती को पुलिस की सुरक्षा  

दक्षिण पूर्व जिला अधिकारियों के अनुसार पीड़ित युवती व परिवार को सुरक्षा मुहैया करा दी गई है। सादी वर्दी में पुलिसकर्मियों की तैनाती के अलावा बीट स्टाफ भी तैनात कर दिया गए हैं। मजिस्ट्रेट के सामने पीड़िता का बयान दर्ज करा दिया गया है। पुलिस ने कहा कि आरोपी देश छोड़कर फरार न हो जाए, यह सुनिश्चत करने के लिए लुकआउट सर्कुलर जरी किया गया है।