• Dainik Bhaskar Hindi
  • National
  • Diwali in Delhi: 500 arrested, 10 thousand kg firecrackers confiscated, Police Commissioner distributed midnight sweets

दैनिक भास्कर हिंदी: दिल्ली में दिवाली पर 500 गिरफ्तार, 10 हजार किलो पटाखे जब्त, पुलिस आयुक्त ने आधी रात बांटी मिठाई

October 28th, 2019

हाईलाइट

  • दिल्ली में अवैध पटाखों की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी हुई
  • पुलिस ने 500 लोगों को गिरफ्तार किया और 10 हजार किलो पटाखे जब्त किए
  • पुलिस आयुक्त ने खुले-दिल और मन से मातहतों को मिठाई बांटी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। दिल्ली की दिवाली को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए चलाया गया सुप्रीम कोर्ट का चाबुक राजधानी वासियों के बहुत काम आया। दिवाली के आसपास के दिनों में और दिवाली की रात राष्ट्रीय राजधानी में अवैध पटाखों की तलाश में ताबड़तोड़ छापेमारी हुई। साढ़े चार सौ से ज्यादा लोग गिरफ्तार किए गए, सुरक्षा इंतजामों का जायजा लेने सड़कों पर उतरे पुलिस आयुक्त ने खुले-दिल और मन से मातहतों को मिठाई बांटी।

दिल्ली पुलिस मुख्यालय के प्रवक्ता, सहायक आयुक्त अनिल मित्तल ने आईएएनएस को सोमवार को इस बात की जानकारी दी।

दीपावली के अवसर पर सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों को लागू कराने के लिए दिल्ली पुलिस दीवाली के आसपास के दिनों में और दिवाली की रात पूरी तरह चुस्त दिखाई दी। यहां तक कि पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक खुद भी लाव-लश्कर के साथ नौ बजे रात ही दिल्ली की सड़कों पर उतर आए।

यह देखने के लिए कि सुरक्षा इंतजाम कैसे हैं, कहीं उनका कोई मातहत दिवाली जैसे पर्व पर भी खुद को अपनों से दूर सड़क पर ड्यूटी देते वक्त हतोत्साहित महसूस न करे, इसके लिए खुद पुलिस आयुक्त ने मध्य दिल्ली जिले के दीनदयाल उपाध्याय मार्ग, आईपी एस्टेट, सेंट्रल दिल्ली के पुलिस नियंत्रण कक्ष, पुलिस मुख्यालय, नई दिल्ली जिले के कनाट प्लेस, यमुना पार में पूर्वी दिल्ली के चिल्ला पुलिस पिकेट (दिल्ली नोएडा बार्डर), हैदरपुर आदि इलाकों का आधी रात तक दौरा किया।

दीवाली की रात महकमे के मुखिया यानी पुलिस आयुक्त को अपने सामने खड़ा देखकर मातहतों का उत्साह कई गुना बढ़ गया। इतना ही नहीं मातहत पुलिसकर्मियों का मन-दिल जीतने के लिए पुलिस आयुक्त पटनायक ने दिल खोलकर, दिवाली पर अपनों से दूर सड़क पर दिल्ली की जनता की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मियों को अपने हाथों से मिठाई के डिब्बे भी भेंट किए।

आईएएनएस की जानकारी के मुताबिक, बीते दो दशक में राष्ट्रीय राजधानी में शायद यह पहला मौका है, जब दिवाली की रात सड़क पर ड्यूटी दे रहे मातहत पुलिसकर्मियों के हाथों में किसी पुलिस आयुक्त ने झिड़कियों के बजाए मिठाई के डिब्बे बांटे हों।

यही नहीं, दिल्ली को प्रदूषण से बचाने के लिए कई दिनों से जूझ रही दिल्ली पुलिस को दिवाली की रात तक बड़ी कामयाबियां भी हाथ लगीं। मसलन करीब 500 लोगों को विभिन्न स्थानों से अलग-अलग धाराओं में गिरफ्तार किया गया। सुप्रीम कोर्ट के दिशानिर्देशों का उल्लंघन करते हुए रात 10 बजे के बाद पटाखे चलाने के मामले में 315 केस पूरी दिल्ली में दर्ज किए गए। इन मामलों में करीब 166 लोग गिरफ्तार हुए।

इसी तरह दिवाली की रात विस्फोटक अधिनियम के तहत दर्ज 56 मामलों में 44 लोगों को गिरफ्तार किया गया, जबकि दिवाली वाली रात दिल्ली पुलिस नियंत्रण कक्ष को छोटी-बड़ी सब मिलाकर अलग-अलग स्थानों से 940 कॉल्स प्राप्त हुईं।

दिल्ली पुलिस प्रवक्ता अनिल मित्तल के मुताबिक, प्रतिबंधित पटाखों को खोजने के लिए पूरी दिल्ली में पुलिस की लाइसेंसिंग शाखा और जिला पुलिस ने संयुक्त छापामारी अभियान भी चलाया। इस संयुक्त अभियान में करीब 10 हजार किलोग्राम प्रतिबंधित पटाखे भी जब्त किए गए।

जानकारी के मुताबिक, पूर्वी दिल्ली, नई दिल्ली और उत्तर पूर्व जिलों में दीपावली की रात एक भी शख्स को गिरफ्तार नहीं किया गया।