दैनिक भास्कर हिंदी: DMK : एमके स्टालिन ने मोदी सरकार को बताया चुनावी तानाशाह

September 8th, 2018

हाईलाइट

  • डीएमके के नवनिर्वाचित अध्यक्ष एमके स्टालिन ने बीजेपी सरकार और पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है।
  • एमके स्टालिन ने हमला करते हुए मोदी सरकार को चुनावी तानाशाही करने का आरोप लगाया है।

डिजिटल डेस्क, चेन्नई। द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (डीएमके) के नवनिर्वाचित अध्यक्ष एमके स्टालिन ने बीजेपी सरकार और पीएम नरेंद्र मोदी पर हमला बोला है। शनिवार को एमके स्टालिन ने हमला करते हुए मोदी सरकार को चुनावी तानाशाही करने का आरोप लगाया है। डीएमके ने भारतीय जनता पार्टी को शिकस्त देने का प्रण भी किया है। इस दौरान डीएमके ने बीजेपी पर भगवाकरण करने के सपने का आरोप भी लगाया है। बता दें कि एम करुणानिधि के बाद एमके स्टालिन ने डीएमके की कमान संभाली है।

शनिवार को स्टालिन के नेतृत्व में जिला सचिवों, सांसदों और विधायकों के साथ एक बैठक आयोजित की गई थी। इस बैठक में कहा गया कि पार्टी संवैधानिक मूल्यों का बरकरार रखने के लिए कोई भी कीमत चुकाने के लिए तैयार है। बैठक में पारित प्रस्ताव में कहा गया, ‘बीजेपी सरकार तमिलनाडु के हितों की अनदेखी कर रही है, बहुसंख्यकों को प्रभावित और सांप्रदायिकता को बढ़ावा दे रही है, यहां तक कि मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और बीजेपी का विरोध करनेवालों को राष्ट्र विरोधी करार दिया जा रहा है।’

इस प्रस्ताव का शीर्षक ‘वी रिजेक्ट बीजेपीज सैफरनाइजेशन ड्रीम्स’ रखा गया था। इसमें कहा गया है कि बीजेपी सरकार की आलोचना करने वाली मीडिया को डराया जा रहा है। वहीं दलितों और अल्पसंख्यकों को कई स्थानों पर निशाना बनाया जा रहा है। इस दौरान राज्य में सत्तारूढ़ एआईएडीएमके की भी आलोचना की गई। डीएमके ने आरोप लगाया कि एआईएडीएमके भ्रष्टाचार का प्रतीक बन गई है और उसे सत्ता से बेदखल करने का प्रण लिया गया।

बता दें कि स्टालिन को 28 अगस्त को पार्टी प्रमुख बनाया गया था, जिसके बाद हुई इस पहली बैठक में नोटबंदी, राफेल सौदे, नीट और मौजूदा आर्थिक स्थिति जैसे मुद्दे पर केंद्र की मोदी सरकार की आलोचना की गई।

खबरें और भी हैं...