दैनिक भास्कर हिंदी: राहुल से बोले गडकरी- मोदी पर हमले के लिए मेरा सहारा न लें

February 5th, 2019

हाईलाइट

  • नितिन गडकरी ने राहुल से कहा- मोदी पर हमले के लिए दूसरों का सहारा न लें
  • गडकरी द्वारा ABVP के एक कार्यक्रम में दिए एक बयान को राहुल ने सराहा था
  • कार्यक्रम में गडकरी ने कहा था, 'जो लोग अपने परिवार का ध्यान नहीं रख सकते, वे देश सेवा भी नहीं कर सकते'

डिजिटल  डेस्क, नागपुर। केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक ट्वीट के जरिए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से कहा है कि पीएम मोदी पर निशाना साधने के लिए वे उनका सहारा न लें। दरअसल, गडकरी ने सोमवार (4 फरवरी) को एक बयान दिया था, जिसमें उन्होंने कहा था कि जो लोग अपने परिवार का ध्यान नहीं रख सकते, वे देश सेवा भी नहीं कर पाएंगे। गडकरी के इस बयान को पीएम मोदी के विरोध में देखा जा रहा था। इस पर राहुल गांधी ने गडकरी की तारीफ की थी। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा था कि बीजेपी में अकेले नितिन गडकरी ही हैं, जिनमें हिम्मत है।

क्या था मामला

सोमवार को अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के पूर्व सदस्यों को सम्बोधित करते हुए गडकरी ने कहा था, ''पार्टी कार्यकर्ताओं को सबसे पहले अपनी घरेलू जिम्मेदारियां ठीक से निभानी चाहिए। जो ये नहीं कर सका वो देश भी नहीं संभाल सकता।' उन्होंने कहा था, 'मैं ऐसे कई लोगों से मिला हूं जो कहते हैं कि मैं अपना जीवन देशसेवा और पार्टी सेवा में समर्पित करना चाहता हूं। मैं ऐसे लोगों से कहना चाहूंगा कि पहले अपने परिवार की देखभाल करें।'

 

राहुल गांधी ने बोला- आप ही में है हिम्मत

नितिन गडकरी के इस बयान के बाद राहुल ने उनके बयान से जुड़ी खबर को शेयर करते हुए ट्वीट किया था, 'बधाई! बीजेपी में अकेले आप ही हैं जिसमें हिम्मत हैं। कृपया इन मुद्दों पर भी टिप्पणी करें.. राफेल घोटाला और अनिल अंबानी.. किसानों की बदहाली..संवैधानिक संस्थाओं का विध्वंस।'

राहुल ने एक और ट्वीट कर कहा था, 'बड़ी माफी. मैं सबसे महत्वपूर्ण मुद्दा तो भूल गया.....नौकरी..नौकरी...नौकरी'

 

 

गडकरी बोले- मेरा सहारा न लें

राहुल गांधी को जवाब देते हुए नितिन गडकरी ने ट्वीट किया, 'राहुल जी, मेरी हिम्मत के लिए मुझे आप के सर्टिफिकेट की जरूरत नही है लेकिन आश्चर्य इस बात का है कि एक राष्ट्रीय पार्टी के अध्यक्ष होने बाद भी हमारी सरकार पर हमला करने के लिए आपको मीडिया द्वारा ट्विस्ट किए गए खबरों का सहारा लेना पड़ रहा है।'