दैनिक भास्कर हिंदी: पीएम मोदी को एक और मामले में EC की क्लीन चिट, राजीव गांधी को बताया था भ्रष्टाचारी नंबर 1

May 8th, 2019

हाईलाइट

  • चुनाव आयोग ने मंगलवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को एक और मामले में क्लीन चिट दे दी है
  • एक चुनाव रैली के दौरान पीएम ने राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर 1 बताया था
  • इस फैसले के साथ अब तक मोदी को नौ मामलों में क्लीन चिट मिल गई है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। चुनाव आयोग ने मंगलवार को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी को उनकी राजीव गांधी को भ्रष्टाचारी नंबर 1 बताने वाली टिप्पणी के मामले में क्लीन चिट दे दी है। आयोग ने पीएम की इस टिप्पणी को आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन नहीं माना है। इस फैसले के साथ अब तक मोदी को नौ मामलों में क्लीन चिट मिल गई है।

पीएम मोदी ने कहा था, 'आपके पिताजी को आपके राग दरबारियों ने मिस्टर क्लीन बना दिया था। गाजे-बाजे के साथ मिस्टर क्लीन मिस्टर क्लीन चला था, लेकिन देखते ही देखते भ्रष्टाचारी नंबर वन के रूप में उनका जीवनकाल समाप्त हो गया। नामदार ये अहंकार आपको खा जाएगा, ये अहंकार आपको छोड़ेगा नहीं। ये देश गलतियां माफ करता है, ये देश धोखेबाजी को कभी माफ नहीं करता है।'

राजीव गांधी पर मोदी की टिप्पणी के बाद विपक्षी दलों ने उनकी व्यापक आलोचना की थी। कांग्रेस प्रेसिडेंट और राजीव गांधी के बेटे राहुल गांधी ने कहा था, 'मोदीजी, लड़ाई खत्म हो गई है। आपके कर्म आपका इंतजार कर रहे हैं। अपने बारे में जो आपके विचार हैं, वह मेरे पिता पर थोपना भी आपको नहीं बचा पाएगा। बहुत सारा प्यार और बड़ी सी झप्पी - राहुल।'

इससे पहले दिन में, चुनाव आयोग ने मोदी को दो और मामलों में क्लीन चिट दी थी। कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की थी पीएम मोदी ने लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण में वोट डालने के बाद 23 अप्रैल को अहमदाबाद में "रोड शो" किया था। आयोग ने निष्कर्ष निकाला कि मोदी ने आचार संहिता और चुनाव कानून का उल्लंघन नहीं किया।

आयोग ने मोदी को कर्नाटक के चित्रदुर्ग में उनके 9 अप्रैल को दिए गए भाषण को लेकर भी क्लीन चिट दी है। कांग्रेस ने चुनाव ओयग से शिकायत की थी कि पीएम ने नए मतदाताओं को बालाकोट एयरस्ट्राइक के हीरोज के लिए अपना वोट समर्पित करने के लिए कहा था।