दैनिक भास्कर हिंदी: पश्चिम बंगाल में EC का एक्शन, सीएम के करीबी पुलिस अफसरों का किया तबादला

April 6th, 2019

हाईलाइट

  • लोकसभा चुनाव से पहले ऐक्शन में चुनाव आयोग।
  • सीएम ममता बनर्जी के करीबी पुलिस अफसरों का किया तबादला।
  • कोलकाता पुलिस कमिश्नर सहित चार पुलिस अधिकारियों का ट्रांसफर।

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। लोकसभा चुनाव से पहले भारतीय निर्वाचन आयोग (EC) ने शुक्रवार रात पश्चिम बंगाल में बड़ी कार्रवाई की है। चुनाव आयोग ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के करीबी कई पुलिस अफसरों का तबादला कर दिया है। EC ने कोलकाता पुलिस कमिश्नर सहित चार पुलिस अधिकारियों का ट्रांसफर किया है। 

कोलकाता पुलिस कमिश्नर अनुज की जगह राजेश कुमार को जिम्मेदारी दी गई है। बता दें कि, सीबीआई के खिलाफ धरने के दौरान अनुज शर्मा मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के साथ हर समय मौजूद थे। अनुज शर्मा के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत की गई थी। कोलकाता पुलिस कमिश्नर के अलावा ममता के एक और करीबी बिधाननगर के पुलिस कमिश्नर ज्ञानवंत सिंह का तबादला किया गया है। नटराजन रमेश बाबू को यहां का नया पुलिस कमिश्नर बनाया गया है। इसके साथ ही बीरभूम और डायमंड हार्बर के एसपी का भी ट्रांसफर कर दिया गया है। अवन्नू रविंद्रनाथ को बीरभूम का नया पुलिस अधीक्षक नियुक्त किया गया है। वहीं श्रीहरि पांडे को डायमंड हार्बर का पुलिस अधीक्षक नियुक्त किया है।

पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव को EC द्वारा लिखे गये पत्र में कहा गया है, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के एडीजी डॉ. राजेश कुमार को कोलकाता का नया पुलिस आयुक्त बनाया गया है, जबकि एडीजी और आईजीपी (संचालन) नटराजन रमेश बाबू को बिधाननगर का पुलिस आयुक्त बनाया है। 

आंध्र प्रदेश में भी EC ने लिया ऐक्शन
चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल के अलावा आंध्र प्रदेश में भी ऐक्शन लिया है। EC ने आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव अनिल चन्द्र पुनेठा को तत्काल हटाने का आदेश दिया है। दरअसल, चुनाव आयोग के पास आंध्र प्रदेश के मुख्य सचिव अनिल चंद्र पुनेठा के खिलाफ राजनीतिक पक्षपात की शिकायतें मिली थीं। इसके बाद आयोग ने राज्य सरकार को आदेश दिया कि 6 अप्रैल तक पुनेठा का तबादला गैर चुनावी ज़िम्मेदारी वाले ओहदे पर किया जाए। बाकी कार्रवाई जांच की पूरी रिपोर्ट आने के बाद होगी।
 

हालांकि आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू ने चीफ सेक्रेटरी अनिल चंद्र पुनेठा के तबादले पर आपत्ति जताई है। सीएम नायडू ने कहा, किस गलती पर चुनाव आयोग ने उनका तबादला किया है। गलती बताए बिना कैसे तबादला किया जा सकता है। उन्होंने चुनाव आयोग को पक्षपात रहित काम करने की बात कही है। 

खबरें और भी हैं...