दैनिक भास्कर हिंदी: मनी लॉन्ड्रिंग मामले में ED ने प्रफुल्ल पटेल से की आठ घंटे पूछताछ

June 11th, 2019

हाईलाइट

  • पटेल को समन भेज चुका है ईडी
  • पिछली तारीख को पूछताछ में शामिल नहीं हुए थे पटेल
  • दीपक तलवार से जुड़े मामले में सामने आया नाम

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व नागरिक उड्डयन मंत्री और राष्ट्रीय कांग्रेस पार्टी के नेता प्रफुल्ल पटेल सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के सामने पेश हुए, जहां उनसे आठ घंटे तक पूछताछ हुई। संप्रग सरकार के दौरान कथित तौर पर उड्डयन घोटाले में एयर इंडिया को हुए करोड़ों रुपए के नुकसान को लेकर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में पटेल सोमवार को अपने वकील के साथ ईडी दफ्तर पहुंचे थे। इस दौरान उनसे लंबी पूछताछ हुई। ईडी ने मनी लॉन्ड्रिंग मामले में प्रफुल्ल पटेल को समन भेजा था।

यह पहला मौका है जब पटेल इस मामले में वित्तीय जांच एजेंसी ईडी के सामने पेश हुए हैं। इसके पहले उन्हें छह जून को ईडी के सामने पेश होना था, लेकिन पहले से तय काम के चलते इस दिन वे ईडी दफ्तर में हाजिर नहीं हो पाए थे और अगली तारीख ले ली थी। जानकारी के मुताबिक ईडी ने पटेल का उड्डयन घोटाले में बयान रिकार्ड किया है। इसके पहले प्रफुल्ल पटेल ने कहा था कि वह ईडी की जांच में सहयोग करेंगे और उड्डयन क्षेत्र की जटिलताओं के बारे में जांच एजेंसियों को जानकारी देंगे।

गौरतलब है कि हाल ही में विमानन लॉबिस्ट दीपक तलवार से संबंधित एक मामले की चार्जशीट में प्रफुल्ल पटेल का नाम सामने आया था। इस मामले में ईडी ने एयर इंडिया के कई अधिकारियों से पूछताछ की है और तत्कालीन नागरिक उड्डयन सचिव और अन्य लोगों के बयान दर्ज किए हैं, जो प्रक्रिया और समझौतों को अंतिम रूप देने में शामिल रहे हैं।

ईडी एयर इंडिया-इंडियन एयरलाइंस विलय, बोइंग और एयरबस से 70 हजार करोड़ रुपए में 111 विमानों की खरीद, निजी विमानों के लिए फायदा पहुंचाने वाले मार्गों को आवंटित करने और विदेशी निवेश से प्रशिक्षण संस्थानों को खोलने के मामले की जांच कर रहा है। बता दें कि प्रफुल्ल पटेल मनमोहन सिंह के नेतृत्व वाली संप्रग सरकार के दौरान लगभग सात साल तक नागरिक उड्डयन मंत्री थे।