comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

किसान आंदोलन: भारतीय किसान संघ का ऐलान आज फूकेंगे प्रधानमंत्री का पुतला, 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान


हाईलाइट

  • 5 दिसंबर को पूरे देश जलाए जाएंगे पीएम मोदी के पुतलेः एचएस लखोवाल
  • राकेश टिकैत ने भी किया 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कृषि कानूनों के​ विरोध में किसान लगातार 9 दिन से दिल्ली की सीमाओं को ब्लॉक कर प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच शुक्रवार को किसान नेताओं ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर साफ कर दिया है कि वे कानून में संशोधन के लिए तैयार नहीं हैं। सरकार को तीनों कानून वापिस लेने होंगे। वहीं किसानों ने 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान किया है। इसके अलावा किसान कल कानूनों के विरोध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का पुतला फूकेंगे। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने भी किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए अपनी तैयारियां शुरू कर दी है।

बता दें कि गुरुवार को सात घंटे से ज्यादा चली चौथे दौर की सरकार और किसानों की बातचीत बेनतीजा रही थी। सरकार का कहना है कि एमएसपी रहेगी, उसे छुएंगे तक नहीं, वहीं किसान इस बात पर अड़े हैं कि संसद सत्र बुलाकर कानून रद्द कराए जाएं। अब पांच दिसंबर को फिर से वार्ता होगी। 

राकेश टिकैत ने भी किया 8 दिसंबर को भारत बंद का आह्वान
भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने आज शाम प्रेस कॉन्फ्रेंस कर 8 दिसंबर को भारत बंद का ऐलान किया। इस बीच आज सुबह से एक्सप्रेस वे पर किसानों ने दिल्ली जाने का रास्ता रोका हुआ है। किसानों ने सुबह दिल्ली से गाजियाबाद आने का भी रास्ता रोक दिया इससे लोगों को भारी परेशानी हुई। किसानों का कहना है कि मांगे नहीं माने जाने तक वह यूपी गेट पर डटे रहेंगे। शिकायत ने तमाम वर्गों से भारत बंद में सहयोग की अपील की है।

5 दिसंबर को पूरे देश जलाए जाएंगे पीएम मोदी के पुतलेः एचएस लखोवाल
भारतीय किसान यूनियन (लखोवाल) के जनरल सेक्रेटरी एचएस लखोवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि हमने कल सरकार से कहा था कि, 'कृषि बिल वापस ले लें। पांच दिसंबर को पूरे देश में प्रधानमंत्री मोदी के पुतले जलाए जाएंगे। हमने आठ दिसंबर को भारत बंध बुलाया है।' 

तीन बिलों की वापसी से कम कुछ स्वीकार नहीं- किसान नेता
सुबह से चल रही किसान नेताओं की बैठक शाम करीब 5 बजे खत्म हुई जिसके बाद उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा कि कल सरकार के साथ होने वाली बैठक में वो यही मांग रखेंगे कि तीनों बिलों की वापसी से कम वह कुछ स्वीकार नहीं करेंगे।

दिल्ली पुलिस ने किसी भी परिस्थिति से निपटने की शुरू की तैयारियां
अभी तक टीकरी बॉर्डर पर किसानों के आगे एक लेयर गतिरोध बनाया गया था, लेकिन शुक्रवार को पुलिस ने सड़क के बीचो-बीच दूसरी लेयर सिक्योरिटी और बढ़ा दी है। बड़े-बड़े पत्थरों को बीच सड़क पर रख कर दूसरी लेयर सिक्योरिटी को बनाया गया है। इतना ही नहीं सड़क के बीचों—बीच करीब 100 मीटर में बड़े-बड़े ब्लॉक्स को​ जिग जैग रखा गया है, जिससे कि अगर बैरिकेड की दो लेयर को किसान तोड़ने में कामयाब होकर आगे भी बढ़ें तो इन ज़िग जैग पत्थरों के बीच में किसानों के ट्रैक्टर ट्रॉली और ट्रक फस जाए।

दिल्ली पुलिस की कंपनी के अलावा पैरामिलिट्री फोर्स और आरएएफ भी है तैनात
पिछले 9 दिन से टिकरी बॉर्डर पर बड़ी संख्या में दिल्ली पुलिस के साथ-साथ पैरामिलिट्री फोर्स और आरएएफ की तैनाती की गई है। दिल्ली का यह बॉर्डर बहादुरगढ़-रोहतक को दिल्ली से जोड़ता है। हजारों की संख्या में ये किसान इस बॉर्डर पर अड़े हुए हैं। जिसके चलते आसपास के गांव के लोगों को भी भारी दिक्कतों का सामना करना पढ़ रहा है।

सिंघु बॉर्डर पर भी 3 लेयर बैरीकेडिंग
दिल्ली के सिंघु बॉर्डर पर भी पुलिस ने तीन लेयर बैरिकेडिंग की है। यह बैरिकेडिंग 100-100 मीटर के गैप में की है। इन बैरिकेड पर बड़े-बड़े ब्लॉक लगाने के साथ-साथ कटीले तार भी लगाए गए हैं। इतना ही नहीं दिल्ली पुलिस ने किसानों के पंजाब और हरियाणा में बैरिकेड तोड़कर आगे बढ़ने से सबक लेते हुए इस तरह की तैयारियां की है, जिसमें किसान चाह कर भी आसानी से इन ब्लॉक और डंपर से आगे नहीं बढ़ पाएंगे।

कमेंट करें
qwYKs
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।