दैनिक भास्कर हिंदी: मुंबई के आजाद मैदान में किसानों की रैली, शरद पवार बोले- राज्यपाल के पास कंगना से मिलने का समय, लेकिन किसानों से नहीं

January 25th, 2021

हाईलाइट

  • महाराष्ट्र के 21 जिलों के 6,000 से अधिक किसानों की मुंबई में रैली
  • एनसीपी प्रमुख पवार ने साधा केंद्र और राज्यपाल पर निशाना

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र के 21 जिलों के 6,000 से अधिक किसान दिल्ली की सीमा पर आंदोलन कर रहे किसानों के साथ एकजुटता दिखाने के लिए मुंबई के आजाद मैदान में इकट्ठा हुए। इस दौरान किसानों की रैली को संबोधित करते हुए राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी  (एनसीपी) प्रमुख शरद पवार ने केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा, “ठंड के मौसम में, पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के किसान पिछले 60 दिनों से आंदोलन कर रहे हैं। क्या पीएम ने उनका हालचाल पूछा? क्या ये किसान पाकिस्तान के हैं?”

Image

शरद पवार ने महाराष्ट्र के राज्यपाल पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा, आज देशभर में शांतिपूर्ण तरीके से किसानों का आंदोलन चल रहा है। राज्यपाल के पास कंगना रनौत से मिलने का वक्त है, लेकिन आंदोलन कर रहे किसानों से मिलने का वक्त नहीं है। शरद पवार ने कहा कि केंद्र ने बिना किसी चर्चा के कृषि कानूनों को पास कर दिया, जो संविधान के साथ मजाक है। अगर सिर्फ बहुमत के आधार पर कानून पास करेंगे तो किसान आपको खत्म कर देंगे, ये सिर्फ शुरुआत है। महाराष्ट्र में कभी ऐसा राज्यपाल नहीं आया, जिसके पास किसानों से मिलने का वक्त नहीं है।

Image

बता दें कि किसान आजाद मैदान में रैली के बाद राजभवन तक मार्च निकालना चाहते थे, लेकिन सभी किसानों को वहां तक जाने की इजाजत नहीं मिली। ऐसे में अब कुल 23 किसानों का प्रतिनिधिमंडल ही राजभवन जाएगा और अपनी मांगों को सामने रखेगा। आजाद मैदान में मौजूद एक प्रदर्शनकारी ने कहा, 'जब तक तीनों कृषि कानून वापस नहीं होंगे किसानों का आंदोलन नहीं रूकेगा। हम आज रैली करने के बाद राज्यपाल को ज्ञापन देने जाएंगे।'

Image

खबरें और भी हैं...