comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

किसानों का विरोध, नोएडा-दिल्ली सीमाओं पर यातायात प्रभावित

December 02nd, 2020 15:30 IST
 किसानों का विरोध, नोएडा-दिल्ली सीमाओं पर यातायात प्रभावित

हाईलाइट

  • किसानों का विरोध, नोएडा-दिल्ली सीमाओं पर यातायात प्रभावित

नई दिल्ली, 2 दिसंबर (आईएएनएस)। किसानों ने बुधवार को भी अपना धरना-प्रदर्शन जारी रखा, जिसके कारण नोएडा और दिल्ली के बीच के रास्तों पर खासा ट्रैफिक रहा। उत्तर प्रदेश को राष्ट्रीय राजधानी से जोड़ने वाले एक प्रमुख मार्ग नोएडा-दिल्ली सीमा पर विरोध प्रदर्शन के चलते दूसरे दिन बंद करना पड़ा।

नोएडा-लिंक रोड पर चिल्ला बॉर्डर को बंद कर दिया गया है। दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट कर कहा, नोएडा लिंक रोड पर गौतम बुद्ध द्वार के पास चिल्ला बॉर्डर किसानों के विरोध के कारण यातायात के लिए बंद है। लोगों को सलाह दी जाती है कि नोएडा जाने के लिए नोएडा लिंक रोड का उपयोग करने से बचें और नोएडा के बजाय एनएच-24 और डीएनडी का उपयोग करें।

इस सीमा तक जाने वाली सड़कों पर भारी भीड़ देखी गई और ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को वाहन चालकों को वैकल्पिक मार्ग बताते हुए देखा गया। नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने बुधवार को कहा कि दिल्ली-नोएडा डायरेक्ट फ्लाईवे (डीएनडी) पर यातायात सुचारू था और वाहन चालक या तो कालिंदी कुंज रोड या डीएनडी का उपयोग करते हुए दिल्ली की यात्रा कर रहे थे।

सिंघू और टिकरी बॉर्डर को पहले ही दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने वाहनों की आवाजाही के लिए बंद कर दिया है, जिसके कारण राजधानी में कई जगहों पर जाम लग गया।

दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट किया, टिकरी बॉर्डर, झारोदा बॉर्डर, झटिकरा बॉर्डर भी सभी वाहनों के लिए बंद हैं। वहीं बदुसराय बॉर्डर केवल टू व्हीलर के लिए खुला है।

हरियाणा जाने वाले लोगों के लिए दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने कहा है कि वे धंसा, दौराला, कापसहेड़ा, राजोखरी एनएच-8, बिजवासन, पालम विहार और दुंदाहा सीमाओं का उपयोग करें।

एक वरिष्ठ ट्रैफिक पुलिस अधिकारी ने कहा, सिंघू बॉर्डर अभी भी दोनों तरफ से बंद है। लामपुर, औचंदी और अन्य छोटे बॉर्डर भी बंद हैं। कृपया वैकल्पिक रास्ते से जाएं। मुकरबा चौक और जीटीके रोड से ट्रैफिक डायवर्ट किया गया है।

हरियाणा और उत्तर प्रदेश से सटी दिल्ली की सीमाओं पर किसान डेरा डाले हुए हैं। हरियाणा के सिंघू और टिकरी सीमाओं पर और उत्तर प्रदेश के गाजीपुर और चिल्ला सीमाओं पर सैकड़ों किसान नए कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं।

एसडीजे-एसकेपी

कमेंट करें
fBkbs