दैनिक भास्कर हिंदी: येदियुरप्पा का इस्तीफा, कुमारस्वामी 15 दिन में साबित करेंगे बहुमत

May 20th, 2018

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। कर्नाटक में लंबी उठापटक के बाद आखिरकार बीजेपी की सरकार गिर गई है। दो दिन तक मुख्यमंत्री रहने के बाद बीएस येदियुरप्पा ने इस्तीफा दे दिया है। बहुमत के आंकड़े के लिए जरूरी संख्या ना जुटा पाने की वजह से येदियुरप्पा ने विश्वास मत से पहले ही इस्तीफा दे दिया। इसके बाद कांग्रेस ओर जेडी(एस) गठबंधन ने एचडी कुमारस्वामी की अगुवाई में राज्यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा पेश किया। कुमारस्वामी को बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का वक्त दिया गया है। वह बुधवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। 


 

 

 



5:05 PM राज्यपाल के इस्तीफे से कुछ नहीं होगा- राहुल गांधी

5:04 PM संस्थान पर हमला होगा तो हम उसकी रक्षा करेंगे- राहुल गांधी

5:01 PM कर्नाटक का संदेश मिलकर बीजेपी को हराना है- राहुल गांधी

 



4:53:PM कर्नाटक के लोगों को शुभकामनाएं, हमारी पार्टी के लोगों और देवगौड़ा जी को शुभकामनाएंः राहुल गांधी

4:52PM कर्नाटक विधानसभा में बीजेपी के सभी नेता राष्ट्रगान के पहले ही निकलेः राहुल गांधी

 



4:47PM कर्नाटक के राजनीतिक घटनाक्रम पर राहुल गांधी का प्रेस कॉन्फ्रेंस

4:39PM हम राजभवन से सरकार बनाने का आमंत्रण मिलने का इंतजार कर रहे हैंः कुमारस्वामी


 



4:25PM हम न्यायपालिका को भी शुक्रिया कहते हैंः गुलाम नबी आजाद
 
4:17PM येदियुरप्पा के इस्तीफे के ऐलान के बाद कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद की प्रेस कॉन्फ्रेंस, बोले-कांग्रेस और जेडीएस के किसी विधायक ने हमारा साथ नहीं छोड़ा


 




4:10PM येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद कर्नाटक विधानसभा में जश्न मनाते कांग्रेस और जेडीएस के नेता

4:09 PM विधानसभा के अंदर कांग्रेस-जेडीएस के नेताओं के बीच खुशी की लहर

4:00 PM: पीएम मोदी ने राज्य में कांग्रेस की सरकार रहते हुए भी कर्नाटक के लिए काम कियाः येदियुरप्पा

3:57 PM: मैं राज्य के किसानों के लिए काम करता रहूंगाः येदियुरप्पा


 




3:54PM: हमने सोचा था कि किसानों के लिए काम करेंगेः येदियुरप्पा

3:52PM: जनता ने हमें 104 सीटें दीं, यह जनादेश कांग्रेस और जेडीएस के लिए नहीं थाः येदियुरप्पा

3.42 PM : सदन में बोल रहे हैं येदियुरप्पा, जनता ने हमें 104 सीटें दी। जनादेश कांग्रेस और जेडीएस के लिए नहीं था।

 

 

 

 


 

 

 

 

 

 

 

 

3.42 PM : कथित रूप से लापता कांग्रेस के दोनों विधायक आनंद सिंह और प्रताप गौड़ा पाटिल ने ली शपथ

 

 

 

 

3.36 PM : सदन में मौजूद हैं कांग्रेस और बीजेपी के राष्ट्रीय नेता

 

 

2.53 PM : कांग्रेस विधायक प्रताप गौड़ा पाटिल अपने कांग्रेस के साथियों के साथ लंच कर रहे हैं।

 

 

 

2.36 PM : कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि उन्हें भरोसा है येदियुरप्पा फ्लोर टेस्ट से पहले इस्तीफा देंगे। उन्होंने ये भी कहा कि विधायक प्रताप गौड़ा पाटिल लौट आए हैं। शपथ लेने के बाद वो कांग्रेस के लिए वोट करेंगे।

 

 

1.56 PM : लापता कांग्रेस विधायक आनंद सिंह गोल्ड फिंच होटल से निकलते देखे गए।

 

 

 

1.40 PM : दक्षिण भारत के चैनल टीवी 9 का दावा, बहुमत परीक्षण से पहले इस्तीफा दे सकते हैं येदियुरप्पा। 13 पन्नों का विदाई भाषण तैयार किया जा रहा है।

 

1.23 PM : कांग्रेस विधायक प्रताप गौड़ा विधानसभा पहुंचे। सदन की कार्यवाही 3.30 बजे तक के लिए स्थगित।

 

1.17 PM :  कांग्रेस ने एक और ऑडियो क्लिप जारी किया है। कांग्रेस का दावा है कि इसमें जर्नादन रेड्डी रायचूर ग्रामीण से चुने गए कांग्रेस विधायक को पैसों का लालच देकर खरीदने की कोशिश कर रहे हैं। कथित ऑडियो क्लिप के मुताबिक एक व्यक्ति जो खुद को जनार्दन कहता है, कांग्रेस के रायचूर ग्रामीण विधायक बसनगौड़ा डड्डल को उनके समर्थन के बदले मंत्री पद की पेशकश करता है।

 

1.10 PM : कांग्रेस ने येदियुरप्पा के बेटे पर आरोप लगाया है कि उनके दो विधायकों को होटल गोल्ड फिंच में बंधक बना रखा है, जिसके बाद DG-IGP नीलमणि राजू होटल पहुंच गई हैं। येदियुरप्पा के बेटे पर कांग्रेस विधायक आनंद सिंह और प्रताप गौड़ा को बंधक बनाने का आरोप है। बीजेपी विधायक सोमशेखर रेड्डी को कांग्रेस विधायकों के साथ देखा गया है।

 

 

 

1.02 PM : कांग्रेस ने येदियुरप्पा का ऑडियो जारी किया है, जिसमें वो कांग्रेस विधायक बीसी पाटिल को रिश्वत की पेशकश कर रहे हैं।

 

 

 

 

 

 

इससे पहले सुबह 10.30 बजे प्रोटेम स्पीकर के मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू हो गई है। दरअसल, केजी बोपैया को प्रोटेम स्पीकर बनाए जाने के खिलाफ कांग्रेस और जेडी(एस) सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है। कांग्रेस चाहती है कि सबसे सीनियर विधायक को प्रोटेम स्पीकर बनाया जाए। वहीं दूसरी ओर किसी भी सूरत में बहुम साबित करने के लिए बीजेपी ने आखिरी दांव चल दिया है। बीजेपी लिंगायत मठ की तरफ से कांग्रेस के लिंगायत विधायकों पर बीजेपी को वोट करने के लिए दबाव बना रही है।

 

 

 

 

                                                                                LIVE UPDATES

 

11.11 AM : कार्यवाही का सीधा प्रसारण होगा, वीडियोग्राफी होगी

11.11 AM : प्रोटेम स्पीकर बीजेपी का ही होगा : सुप्रीम कोर्ट

11.00 AM : बैंगलुरू में विधानसभा की कार्यवाही शुरू

10.55 AM: सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि अगर प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति को चुनौती दी गई तो उन्हें नोटिस देना होगा, इससे आज बहुमत परीक्षण नहीं हो पाएगा


10.52 am: सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के बीच बैंगलुरू में सीएम येदुरप्पा सहित तमाम बड़े नेता विधानसभा पहुंच चुके हैं


10.49 amजस्टिस बोबडे ने इस बारे में उदाहरण भी दिए, सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि सीनियर का मतलब उम्र से नहीं कार्यकाल से होता है


10.44 am: सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि ये पहली बार नहीं है कि किसी सीनियर को प्रोटेम स्पीकर नहीं बनाया गया।ृ, पहले भी कई बार ऐसा हो चुका है कि प्रोटेम स्पीकर कोई सीनियर नहीं बना


10.43 am: कांग्रेस वकील कपिल सिब्बल ने कहा है कि विधानसभा की तरह ही संसद में भी सीनियर सांसद को प्रोटेम स्पीकर बनाने का नियम है, इसलिए बोपैय्या की नियुक्ति असंवैधानिक है


10.41 am: सुप्रीम कोर्ट में कांग्रेस वकील कपिल सिब्बल ने कहा है कि सबसे सीनियर विधायक को प्रोटेम स्पीकर बनाने का नियम है. लेकिन राज्यपाल ने बीजेपी के बोपैय्या को प्रोटेम स्पीकर बना दिया

 

10.40 am: प्रोटेम स्पीकर के बचाव में केके वेणुगोपाल, तुषार मेहता और मुकुल रोहतगी मौजूद

 

10.40 am: कांग्रेस-जेडीएस की तरफ से कोर्ट में अभिषेक मनु सिंघवी, कपिल सिब्बल मौजूद, राम जेठमलानी भी मौजूद

 

10.40 am: केजी बोपैया को प्रोटेम स्पीकर बनाने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू

 

10.38 am: कांग्रेस विधायक विधानसभा पहुंचे

 

10.38 am: बीएस येदियुरप्पा की अगुवाई में बीजेपी विधायक विधानसभा पहुंचे

 

10.22 am: मेरे लिए आज का दिन काफी महत्वपूर्ण, हमारे सारे विधायक एक साथ : कुमारस्वामी

 

09.57 am: कांग्रेस नेता सिद्धारमैया विधानसभा पहुंचे

 

 

कांग्रेस और बीजेपी ने किया बहुमत का दावा

 

कांग्रेस नेता गुलाम नबीं आजाद ने कहा कि संख्याबल बीजेपी के खिलाफ है। नंबर हमारे पक्ष में हैं। हम सरकार बनाने जा रहे हैं। वहीं मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने कहा कि मेरे पास बहुमत है। कल हम वो सारे फैसले लेंगे जो वादे हमने कर्नाटक की जनता से किए थे।

 


 

 

 

 

सीमित किए जाएं प्रोटेम स्पीकर के अधिकार


कांग्रेस-जेडीएस ने कहा कि उसे सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा इस लिए खटखटाना पड़ा, क्योंकि भाजपा ने एक जूनियर विधायक को विधानसभा का अस्थाई अध्यक्ष (प्रोटेम स्पीकर) बना दिया है। कांग्रेस-जेडीएस ने मांग की कि सुप्रीम कोर्ट शक्तिपरीक्षण सही और पारदर्शी तरीके से कराने का तत्काल निर्देश दे। उन्होंने यह मांग भी की कि प्रोटेम स्पीकर विधायकों को शपथ दिलाने और फ्लोर टेस्ट के अलावा किसी दूसरे अधिकार का पालन नहीं करें। 


चार बजे होगा विधानसभा में शक्ति परीक्षण 


सुप्रीम कोर्ट ने कनार्टक विधानसभा में शनिवार को चार बजे शक्ति परीक्षण कराने का आदेश दिया है।  न्यायमूर्ति ए के सिकरी, न्यायमूर्ति एस ए बोबडे और न्यायमूर्ति अशोक भूषण की पीठ ने कांग्रेस-जद (एस) गठबंधन की याचिका पर ये आदेश दिया। कोर्ट ने बीजेपी की गुप्त मतदान की केंद्र सरकार की मांग खारिज कर दी। 

 

हैदराबाद से बैंगलुरू पहुंचे कांग्रेस-JDS विधायक

 

खरीद-फरोख्त की आशंका के बीच कांग्रेस और जेडीएस विधायक हैदराबाद शिफ्ट हो गए थे। 4 बजे होने वाली वोटिंग को देखते हुए सभी विधायक बैंगलुरू पहुंच गए हैं। सभी विधायक होटल हिल्टन में रुके हैं। वहीं जेडीएस विधायक होटल ली-मेरेडियन में रुके हैं।

 

[removed][removed]

 

 

 

रेड्डी ने दिया कांग्रेस विधायक को न्यौता 


इस बीच कांग्रेस ने एक ऑडियो क्लिप जारी की है, जिसमें खनन कारोबारी जनार्दन रेड्डी काग्रेस के एक विधायक को भाजपा में आने के लिए आमंत्रित कर रहे हैं। वह कह रहे हैं कि आप बीजेपी में आ जाइए। हमारे अध्यक्ष आपसे बात करेंगे और आधी रात के बाद से ही आपकी किस्मत बदल जाएगी। कांग्रेस विधायक बीजेपी में आने में अपनी असमर्थता व्यक्त करते हुए कहता है कि उसके ऊपर कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के बहुत अहसान हैं, जिन्हें वह किसी तरह नजरअंदाज नहीं कर सकता। कांग्रेस ने आरोप लगाया का बीजेपी उसके विधायकों को तोड़ने के लिए धन और पद का लालच दे रही है। बीजेपी ने इस काम की जिम्मेदारी रेड्डी बंधुओं को सौंपी है। 

 

जावड़ेकर ने बताया कि 'डर्टी ट्रिक'


मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि यह ऑडियो सीडी कांग्रेस के डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट की खुराफात है। इसका मकसद बीजेपी का छवि ध्वंस करना है। उन्होंने कहा कि इसे गंभीरता से नहीं लिया जाना चाहिए। कांग्रेस हमेशा से ही बीजेपी को बदनाम करने के लिए ऐसे तरीके इस्तेमाल करती रही है। 


बीजेपी कैसे साबित करेगी बहुमत?


एक प्रोटेम स्पीकर बनने से बीजेपी के पास अब 103 विधायक हैं। ऐसे में अब हाउस 221 का हो गया है। बहुमत के लिए बीजेपी का 111 चाहिए। बीजेपी के पास अब ये पांच विकल्प बचते हैं -


पहला विकल्प- संभावित आंकड़ा


बीजेपी 103+ निर्दलीय 2 + कांग्रेस बागी 10 + जेडीएस बागी 2 = 117। यानी बहुमत से ज्यादा। कांग्रेस और जेडीएस के बागी अगर सदन में आते हैं और वोटिंग में शामिल होते हैं तो उनकी सदस्यता खतरे में पड़ जाएगी। लेकिन सरकार बच जाएगी। वैसे ये काम 2 निर्दलीय और 6 बागियों से भी चल जाएगा।


दूसरा विकल्प


कथित 12 बागी विधायक कल सदन में आएं लेकिन शपथ न लें। ऐसे में हाउस 12 कम होकर 209 हो जाएगा और बहुमत का आंकड़ा 105 रहेगा। तब बीजेपी 2 निर्दलीय के साथ बहुमत साबित कर देगी।


तीसरा विकल्प


सभी विधायक शपथ ले लें और जब सदन में वोटिंग की प्रक्रिया शुरू हो तो शोर शराबा और हंगामा शुरू हो जाए। इसका असर ये होगा कि प्रोटेम स्पीकर अपने अधिकार का इस्तेमाल कर कुछ विधायकों को बाहर करवा सकते हैं। ऐसे विधायकों की संख्या 12 या उससे अधिक जरूरी है। तब मौजूदा सदन के हिसाब से वोटिंग होगी और सरकार बच जाएगी।


चौथा विकल्प


सारी प्रक्रिया सामान्य तरीके से हो और कांग्रेस, जेडीएस के विधायक न टूटे। ऐसे में बीजेपी 103 पर रह जाएगी और सरकार गिर जाएगी।


पांचवां विकल्प


बहुमत नहीं मिलता देख शपथ ग्रहण के बाद येदुरप्पा भाषण दें और बिना वोटिंग के इस्तीफे का एलान कर दें और राजभवन जाकर इस्तीफा दे आएं। साल 1996 में केंद्र में वाजपेई के समय में ऐसा ही हुआ था।