दैनिक भास्कर हिंदी: Death: पूर्व अटॉर्नी जनरल सोराबजी का कोरोना संक्रमण से निधन, राष्ट्रपति ने कहा- हमने भारत के लीगल सिस्टम के एक आइकन को खो दिया

April 30th, 2021

हाईलाइट

  • पूर्व अटॉर्नी जनरल सोली सोराबजी का कोरोना संक्रमण से निधन
  • सोराबजी 1989 से 90 और फिर 1998 से 2004 तक देश के अटॉर्नी जनरल थे
  • मार्च 2002 में उन्हें पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व अटॉर्नी जनरल और पद्म विभूषण सोली सोराबजी का कोरोना संक्रमण से निधन हो गया है। वह 91 साल के थे। सोराबजी 1989 से 90 और फिर 1998 से 2004 तक देश के अटॉर्नी जनरल थे। मार्च 2002 में उन्हें दूसरे सबसे बड़े नागरिक पुरस्कार पद्म विभूषण पुरस्कार से सम्मानित किया गया था।

सोली सोराबजी के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दुख जताया। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, 'सोली सोराबजी के निधन से, हमने भारत के लीगल सिस्टम के एक आइकन को खो दिया। वह उन चुनिंदा लोगों में थे जिन्होंने संवैधानिक कानून और न्याय प्रणाली के विकास को गहराई से प्रभावित किया। पद्म विभूषण से सम्मानित, वह सबसे प्रख्यात न्यायविदों में से थे। उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदना।'

सोली सोराबजी का जन्म 1930 में बॉम्बे में हुआ था। सोराबजी ने 1953 में बॉम्बे हाई कोर्ट में अपनी कानूनी प्रैक्टिस शुरू की थी। 1971 में उन्हें सुप्रीम कोर्ट का वरिष्ठ वकील नियुक्त किया गया। वह 1989-90 तक पहले भारत के अटॉर्नी जनरल बने और फिर 1998-2004 तक। सोराबजी को यूनाइटेड नेशन ने 1997 में नाइजरिया में विशेष दूत बनाकर भेजा था, ताकि वहां के मानवाधिकार के हालत के बारे में पता चल सके।

खबरें और भी हैं...