दैनिक भास्कर हिंदी: आधार पर चुनौती देकर विवादों में आए TRAI प्रमुख शर्मा का कार्यकाल 2 साल बढ़ा

August 9th, 2018

हाईलाइट

  • TRAI चेयरमैन आर एस शर्मा का कार्यकाल दो साल के लिए बढ़ा।
  • आर एस शर्मा को जुलाई 2015 में तीन वर्ष के लिए ट्राई प्रमुख बनाया गया था।
  • अब शर्मा सितंबर 2020 तक अपने पद पर बने रहेंगे।

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। अपने आधार नम्बर को सार्वजनिक कर डेटा लीक करने की चुनौती देने वाले भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (TRAI) के चेयरमैन आरएस शर्मा का कार्यकाल बढ़ गया है। सरकार ने उनके कार्यकाल को दो साल के लिए बढ़ा दिया है। पर्सनल मिनिस्ट्री ने गुरुवार को एक आदेश जारी कर कहा है कि कैबिनेट की अपॉइंटमेंट कमिटी ने ट्राई चेयरमैन के रूप में शर्मा की नियुक्ति को 10 अक्टूबर 2018 से आगे 30 सितंबर 2020 तक बढ़ाने को मंजूरी दे दी है।

शर्मा को जुलाई 2015 में तीन वर्ष के लिए ट्राई प्रमुख बनाया गया था। वे 10 अक्टूबर को सेवानिवृत्त होने वाले थे। अब वे सितंबर 2020 में रिटायर होंगे। उस वक्त आरएस शर्मा की उम्र 65 साल होगी।

गौरतलब है कि 28 जुलाई को आरएस शर्मा ने ट्विटर पर अपना आधार नंबर सार्वजनिक करते हुए हैकरों को चुनौती दी थी कि वे इस जानकारी के आधार पर उनकी पर्सनल डिटेल लीक करके दिखाएं। इस चुनौती के कुछ देर बाद ही उनका पूरा डाटा ट्वीटर पर सामने आ गया था। इलियट एल्डरसन नाम के एक ट्वीटर हैंडल से शर्मा का होम एड्रेस, बर्थ डेट, फोन नंबर समेत कई सारी जानकारी ट्वीट की गई थी। ट्वीट में यह भी लिखा गया था कि अब आप समझ जाएंगे कि आधार नंबर को सार्वजनिक करना सही नहीं है।

इस घटना के बाद सोशल मीडिया पर आधार को लेकर असुरक्षा से जुड़ी पोस्ट्स की बाढ़ सी आ गई थी। UIDAI को इस मामले में तुरंत सफाई देनी पड़ी थी। UIDAI ने कहा था, 'TRAI चेयरमैन आरएस शर्मा की जो जानकारी सोशल मीडिया पर प्रकाशित की जा रही है, वह आधार डाटाबेस से नहीं बल्कि अन्य माध्यमों से लीक की गई हैं।' आरएस शर्मा ने भी इस मामले में सफाई दी थी। उन्होंने कहा था कि उनकी जो पर्सनल डीटेल हैकर्स ने लीक करने का दावा किया है वह गुगल पर आसानी से मिल जाती है, यह आधार नम्बर से लीक नहीं की गई है।