दैनिक भास्कर हिंदी: हैदराबाद केस: जहां हुआ था गैंगरेप पुलिस ने वहीं आरोपियों को किया ढेर, जानें पूरा घटनाक्रम

December 6th, 2019

हाईलाइट

  • हैदराबाद पुलिस ने रिक्रिएट किया गैंगरेप का सीन
  • अंधरे का फायदा उठा कर भाग रहे थे आरोपी
  • पुलिस ने गोली मार किया आरोपियों को ढेर

डिजिटल डेस्क, मुम्बई। ​हैदराबाद की वेटनरी डॉक्टर के साथ जिस जगह पर गैंगरेप किया गया था, उसी जगह पर पुलिस ने रेप के आरोपियों को ढेर कर दिया। आज सुबह शुक्रवार को जब देश सो कर उठा, उठते ही यह खबर जैसे ही लोगों के कानों में गई तो उनका चेहरा​ खिल उठा। सुबह उठने के बाद किसी भी इंसान के लिए यह पहली ऐसी मौत की खबर होगी, जिसे सुनकर उन्हें खुशी महसूस हुई होगी। रेप के चारों आरोपी पुलिस रिमांड में थे, चारों को पुलिस द्वारा गुरुवार देर रात नेशनल हाइवे-44 पर क्राइम सीन पर ले जाया गया था। इस दौरान धुंध का फायदा उठाकर रेपिस्टों ने भागने की कोशिश की और इसी मुठभेड़ के बीच पुलिस ने आरोपियों को गोली मार दी। 

आरोपियों की लाशों का पंचनामा किया जा रहा है, इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात है। लेकिन लोग यह जानना चाहते हैं कि आखिर इस पूरे घटनाक्रम में क्या हुआ। आपकी इस जिज्ञासा को शांत करते हुए हम आपको इस घटनाक्रम के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

हैदराबाद में वेटनरी डॉक्टर के साथ हुई घटना के चलते पूरा देश गुस्से में था। गैंगरेप के आरोपियों को 7 दिन की पुलिस कस्टडी मिली थी। इस दौरान पुलिस उनसे पूछताछ कर रही थी। मामले की बेहतर छानबीन के लिए तथा सीन को रिक्रिएट करने के लिए पुलिस आरोपियों को उसी जगह ले गई, जहां उन्होंने दिशा (बदला हुआ नाम) का रेप किया था और उसके बाद उसे जिंदा जला दिया।

रिपोर्ट के अनुसार पुलिस जब इस सीन को रिक्रिएट कर र​ही थी, तब आरोपियों ने पुलिस पर हमला कर दिया और रात को 3.30 बजे धुंध और अंधेरा के बीच भागने की कोशिश की। इस दौरान पुलिस और आरोपियों के बीच मुठभेड़ हुई और हैदराबाद पुलिस के हाथों एनकाउंटर में चारों आरोपी ढेर हो गए। यह एनकाउंटर भी हैदराबाद के एनएच 44 पर हुआ है। 

क्या था मामला
आपको बता दें कि 27 नवम्बर को हैदराबाद एनएच 44 से एक वेटनरी डॉक्टर अपने घर की तरफ जा रही थी। इस दौरान उसकी स्कूटी खराब हो गई। कुछ लोग उसके पास आए और उसे मदद का हवाला दिया और उसके सा​थ रेप कर, उसे जिंदा जला दिया। इस घटना से पूरा देश चौंक गया। देशभर में डॉक्टर के जस्टिस के लिए लोगों ने प्रदर्शन किया। यहां तक कि न्याय के लिए संसद में बवाल तक हो गया। हैदराबाद पुलिस ने इस सीन को रिक्रिएट किया और आरोपियों का एनकाउंटर कर दिया।
 

 

खबरें और भी हैं...