• Dainik Bhaskar Hindi
  • National
  • India China Border Live News Updates Galawn valley Indian Army Alert soldiers India China faceoff border dispute

दैनिक भास्कर हिंदी: India-China Update: गलवान घाटी में माहौल तनावपूर्ण, देश में चीन का विरोध, सियासत भी गरमाई

June 18th, 2020

हाईलाइट

  • लद्दाख में भारत-चीन सीमा पर तनावपूर्ण स्थिति
  • क्षत-विक्षत मिले कुछ शहीदों के शव, गुस्से में सेना

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लद्दाख की गलवान घाटी में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने के बाद से लगातार हालात तनावपूर्ण बने हुए हैं। शहीदों के पार्थिव शरीर उनके घर पहुंच गए हैं। वहीं कुछ शहीदों के शव क्षत-विक्षत में मिलने से भारतीय सेना के जवान गुस्से में हैं। इसी बीच सीमा पर हालात सुधारने के लिए आज गुरुवार को फिर से भारत-चीन के बीच मेजर जनरल स्तर की बैठक होनी है। भारत और चीन की सेना के मेजर जनरल बातचीत करेंगे, ताकि मौजूदा तनाव को कम हो सके। बता दें कि, इससे पहले गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के बाद दो राउंड की बातचीत हो चुकी है, लेकिन अब तक कोई समाधान नहीं निकला।

LIVE Update:

कानपुर के निवासियों ने प्रतीकात्मक रूप से चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग की शव यात्रा निकाली।

बिहार में पप्पू यादव का अनोखा विरोध
पटना में जन अधिकार पार्टी के पप्पू यादव और उनकी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने चीन की मोबाइल कंपनी के होर्डिंग पर 'नो चाइना' और क्रास के निशान बनाए। पप्पू यादव ने JCB मशीन पर चढ़कर चीनी मोबाइल कंपनी के बैनर को काला किया। 

पटना में लोगों ने गधों को चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग और रक्षा मंत्री की फोटो पहनाकर विरोध प्रदर्शन किया।

गुरुवार को चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने फिर भारत पर आरोप लगाते हुए कहा कि, भारत LAC क्रॉस कर रहा है, जिसकी वजह से हिंसक झड़प हुई। धमकी दी गई है कि भारत चीन को कम न आंके।

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने ट्वीट कर कहा है, भारतीय सैनिकों ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) को पार किया, जानबूझकर चीनी अधिकारियों, सैनिकों उकसाया और उनपर हमला किया। जिसके बाद दोनों सेना के बीच संघर्ष को शुरू हुए और सैनिक हताहत हुए।

राहुल ने साधा निशाना
सीमा विवाद को लेकर राजनीतिक गलियारों में वार-पलटवार का दौरा भी जारी है। कांग्रेस लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रही है। गुरुवार को भी कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री मोदी पर निशाना साधा। 

संबित पात्रा ने राहुल को दिया जवाब
राहुल पर पलटवार करते हुए बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा, मोदी सिर्फ बीजेपी के नहीं बल्कि देश के प्रधानमंत्री हैं। मोदी को डरा हुआ कहना हिंदुस्तान को डरा हुआ कहना है। उन्होंने कहा, राहुल को थोड़ा संयम बरतने की जरूरत है। यह सवाल 19 जून को सर्वदलीय मीटिंग में पूछा जा सकता था।

पात्रा ने कांग्रेस पर आरोप भी लगाए
संबित पात्रा ने कहा, राहुल को लॉकडाउन का इस्तेमाल करते हुए किताबें पढ़नी चाहिए थीं। कांग्रेस की सरकारों के वक्त में ही पुराने समझौते हुए थे, वे पढ़ने चाहिए थे। दोनों देशों के बीच समझौता हुआ था कि LAC के दो किलोमीटर रेंज में बंदूक, बम इस्तेमाल नहीं हो सकता। ऐसे में हथियार देकर भेजने का मतलब ही नहीं है। पात्रा ने आरोप लगाया कि, अगस्त 2008 में कांग्रेस और चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के बीच MoU साइन हुआ था। वह बोले समझौते दो देशों के बीच होते सुने, लेकिन दो पार्टियों के बीच समझौता क्यों हुआ?

जानिए लद्दाख में सीमा पर जारी पूरे घटनाक्रम का अपडेट...
दरअसल 15-16 जून की रात को लद्दाख में गलवान घाटी के पास भारत-चीन के सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। कर्नल संतोष बाबू की अगुवाई में भारतीय सैनिक हालात का जायजा लेने पहुंचे थे, इसी दौरान चीनी सैनिकों ने हमला कर दिया। भारत के जवानों को कंटीले तारों वाले डंडों से मारा गया। दोनों देशों के बीच हुए इस संघर्ष में कर्नल संतोष बाबू समेत भारत के 20 जवान शहीद हो गए। वहीं ANI के मुताबिक, चीनी सेना के कमांडिंग अफसर समेत 43 जवान हताहत हुए लेकिन चीन ने अभी तक इसे स्वीकार नहीं किया है।

इसी हिंसा के बाद से दोनों देशों में तनाव बढ़ा हुआ है। हालात को काबू में लाने के लिए सेनाओं के अफसर लगातार बातचीत कर रहे हैं। बुधवार को भी बड़े स्तर पर बात हुई लेकिन कोई ठोस नतीजा नहीं निकला।

बुधवार को भारतीय विदेश मंत्री एस जयशंकर ने चीन के विदेश मंत्री से बात कर कहा, गलवान में गलती चीन की है। प्लानिंग के साथ ये हमला किया गया। विदेश मंत्रालय ने चीन के गलवान घाटी पर दावे को भी नकार दिया।

वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी सीमा विवाद को लेकर बुधवार को पहली बार बयान दिया। पीएम ने दो मिनट का मौत रखकर सभी शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद पीएम मोदी ने कहा, हम किसी को उकसाते नहीं हैं लेकिन अगर कोई हमें उकसाएगा तो हम उसे जवाब देने में पूरी तरह से सक्षम हैं।

India-China: भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा- गलवान में जो हुआ वो चीन की प्लानिंग थी

पीएम मोदी ने 19 जून को बुलाई सर्वदलीय बैठक
भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प के बाद मोदी सरकार एक्शन में आ गई है। प्रधानमंत्री ने 19 जून को शाम 5 बजे सर्वदलीय बैठक बुलाई है। इसमें अलग-अलग पार्टियों के अध्यक्ष शामिल होंगे। इस दौरान सीमा विवाद पर चर्चा की जाएगी।

चीन ने भारत पर लगाए सीमा लांघने के आरोप
चीन की सरकारी मीडिया ने चीनी सेना के हवाले से दावा किया कि, गलवान घाटी क्षेत्र पर उसकी हमेशा संप्रभुता रही है। आरोप लगाया गया कि, भारतीय सैनिकों ने जानबूझकर उकसाने वाले हमले किए, जिस कारण संघर्ष हुआ और सैनिक हताहत हुए। चीन का आरोप है, भारतीय सैनिकों ने 15 जून को दो बार अवैध गतिविधियों के लिए सीमा लांघी और चीनी कर्मियों को उकसाया, उन पर हमले किए जिसके कारण दोनों पक्षों के बीच मारपीट हुई।

खबरें और भी हैं...