दैनिक भास्कर हिंदी: Indian Railway: स्पेशल एसी ट्रेनों में 30 दिन पहले बुक किए जा सकेंगे टिकट

May 23rd, 2020

हाईलाइट

  • पोस्ट ऑफिस और यात्री टिकट सुविधा केंद्र पर बुक किए जा सकेंगे टिकट
  • 12 मई से शुरू हुईं स्पेशल ट्रेनें चलना

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। भारतीय रेलवे ने शुक्रवार को स्पेशल एसी ट्रेनों के लिए यात्रियों की अग्रिम बुकिंग की समय सीमा को 7 दिन से बढ़ाकर अब 30 दिन करने का फैसला किया है। साथ ही इन 15 जोड़ी स्पेशल एसी ट्रेनों में आरएसी या वेटिंग लिस्ट के टिकट भी जारी किए जा सकेंगे। रेलवे मंत्रालय में मीडिया मामलों के कार्यकारी निदेशक राजेश दत्त वाजपेयी ने कहा कि 12 मई से चलाई जा रही 15 जोड़ी विशेष ट्रेनों की अग्रिम आरक्षण अवधि (एआरपी) को यात्रियों की सुविधा के लिए बढ़ाया गया है।

वाजपेयी ने कहा कि वर्तमान में लागू निर्देशों के अनुसार इन ट्रेनों में आरएसी या प्रतीक्षा सूची के टिकट जारी किए जाएंगे। उन्होंने कहा, हालांकि निर्देशों के तहत प्रतीक्षा में रखे गए यात्रियों को इन ट्रेनों में सवार होने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि इन ट्रेनों के लिए कोई तत्काल बुकिंग भी नहीं होगी। उन्होंने यह भी कहा कि इन ट्रेनों का पहला आरक्षण चार्ट निर्धारित प्रस्थान से कम से कम चार घंटे पहले और दूसरा निर्धारित समय से कम से कम दो घंटे पहले ही तैयार किया जाएगा।

पोस्ट ऑफिस और यात्री टिकट सुविधा केंद्र पर बुक किए जा सकेंगे टिकट
इसके अलावा रेलवे ने आरक्षित टिकट की बुकिंग और रद्द करने की सुविधा पोस्ट ऑफिस और यात्री टिकट सुविधा केंद्र लाइसेंस रखने वालों को भी दी गई है। इसके अलावा आईआरसीटीसी के आधिकारिक एजेंट, रेलवे परिसर में यात्री आरक्षण प्रणाली और सामान्य सेवा केंद्रों को भी ऑफलाइन टिकट बुक करने का अधिकार दिया गया है। सभी जगहों पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। बाजपेयी ने कहा कि टिकटों की बुकिंग की अनुमति कंप्यूटराइज्ड पीआरएस काउंटरों के माध्यम से होगी। इसके साथ ही बुकिंग डाकघर, लाइसेंसधारी यात्री टिकट सुविधा केंद्र, आईआरसीटीसी और कॉमन सर्विस सेंटर के अधिकृत एजेंटों द्वारा ऑनलाइन बुकिंग के माध्यम से भी हो सकेगी। उन्होंने कहा कि 31 मई से शुरू होने वाली ट्रेनों के लिए संशोधित नियम 24 मई से लागू होंगे।

12 मई से शुरू हुईं स्पेशल ट्रेनें चलना
बता दें कि लॉकडाउन के कारण रेल सेवा पूरी तरह से ठप थी। रेलवे ने पहले अलग-अलग राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों के लिए पहले श्रमिक स्पेशल ट्रेन चलाने का फैसला लिया। इस ट्रेन से प्रवासी लोगों को उनके राज्यों तक पहुंचाया जा रहा है। वहीं 12 मई से 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेन भी पटरी पर दौड़ना शुरू हुई। हालांकि, 15 जोड़ी स्पेशल ट्रेनें पूरी तरह से एसी हैं। ये ट्रेन नई दिल्ली और देश के अलग-अलग 15 हिस्सों में चलाई जा रही हैं।

 

खबरें और भी हैं...