दैनिक भास्कर हिंदी: आम आदमी को झटका: छोटी बचत योजनाओं पर सरकार ने घटाई ब्याज दर, PPF निवेश पर भी कम होगी आमदनी, जानें नई दरें

April 1st, 2021

हाईलाइट

  • सरकार ने ब्याज दरों पर चलाई कैंची
  • PPF पर ब्याज 46 साल में सबसे कम

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सरकार ने छोटी बचत पर ब्याज दरों में कटौती करके आम लोगों को बड़ा झटका दिया है। बचत खातों, पीपीएफ, टर्म डिपॉजिट, आरडी से लेकर बुजुर्गों के लिए बचत योजनाओं तक पर ब्याज दरों में कटौती कर दी गई है। नई दरें 1 अप्रैल से लागू हो जाएंगी और 30 जून 2021 तक प्रभावी रहेंगी।

वित्त मंत्रालय ने बुधवार को 1 अप्रैल, 2021 से शुरू होने वाले वित्तीय वर्ष की पहली तिमाही के लिए लघु बचत दर में 3.5 प्रतिशत की कटौती की घोषणा की। जनवरी-मार्च के दौरान छोटी बचत दर सालाना 4 प्रतिशत थी।

इसके अलावा एक कार्यालय ज्ञापन में आर्थिक मामलों के विभाग ने कहा कि 1 साल के लिए टर्म डिपॉजिट पर दरों को 5.5 प्रतिशत से 4.4 प्रतिशत तक कम कर दिया गया है और 2-वर्ष, 3-वर्ष, 5-वर्षीय समय जमा दर में तिमाही आधार पर क्रमश: 5.0 प्रतिशत, 5.1 प्रतिशत और 5.8 प्रतिशत कटौती की गई है। 5 साल की आरडी पर पिछले 5.8 प्रतिशत से 5.3 प्रतिशत घटा दिया गया है। मासिक आमदनी खाते पर अब 6.6 फीसदी की जगह केवल 5.7 फीसदी ब्याज मिलेगा।

निर्णय सार्वजनिक भविष्य निधि (पीपीएफ), सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई), राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र में वार्षिक आधार पर क्रमश: 6.4 प्रतिशत, 6.9 प्रतिशत और 5.9 प्रतिशत की बचत दर प्राप्त होगी। किसान विकास पत्र पर ब्याज दर को घटाकर 6.2 प्रतिशत कर दिया गया है।

छवि