comScore

चिदंबरम की जमानत पर गडकरी बोले- हमारी कभी बदले की भावना नहीं रही


हाईलाइट

  • नितिन गडकरी बोले मामला विचाराधीन है और कोर्ट फैसला देगा
  • INX मीडिया मामले में चिदंबरम के खिलाफ हैं सबूत
  • चिदंबरम को 106 दिन बाद ED मामले में जमानत मिली

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट द्वारा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम को जमानत दिए जाने के बाद भाजपा के दिग्गज नेता और केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने INX मीडिया मामले में बयान दिया है। गडकरी ने कहा कि चिदंबरम के खिलाफ सबूत हैं और मामले में जांच भी की गई है। उन्होंने कहा कि अभी मामला विचाराधीन है और कोर्ट इस पर फैसला सुनाएगा। बता दें कि चिदंबरम को INX मामले के प्रवर्तन निदेशालय (ED) केस में बड़ी राहत मिली है। वह 106 दिन बाद तिहाड़ जेल से बाहर आएंगे। कोर्ट ने 2 लाख के बॉन्ड और शर्तों के साथ उन्हें को जमानत दी है। कोर्ट ने कहा है कि वो केस पर सार्वजनिक बयान या इंटरव्यू न दें। साथ ही बिना परमिशन के यात्रा न करें।

प्रतिकार की भावना की नहीं

नितिन गडकरी ने बताया कि 'चिदंबरम के प्रति हमारी बदला लेने की भावना कभी भी नहीं रही। जबकि दूसरी तरफ उन्होंने कांग्रेस के शासनकाल के समय गृह मंत्री रहते हुए मेरे, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ झूठे मामले दर्ज किए थे और बाद में हम सभी निर्दोष साबित हुए।'

क्या है मामला ?

कांग्रेस नेता चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने वित्त मंत्री के पद पर रहते हुए साल 2007 में INX मीडिया को 305 करोड़ रुपए लेने के लिए विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड से मंजूरी दिलाई थी, जिस पर ED ने 2018 में मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था। वहीं इससे पहले CBI भी चिदंबरम के खिलाफ मई, 2017 में केस दर्ज कर चुकी थी। इसी के चलते 21 अगस्त को चिदंबरम को गिरफ्तार किया गया, तब से वह 106 दिन तक न्यायिक हिरासत में ही रहे। CBI मामले में चिदंबरम को सुप्रीम कोर्ट से पहले ही जमानत मिल चुकी थी और अब उन्हें ED मामले में भी राहत मिल गई है।

कमेंट करें
pGASq
कमेंट पढ़े
LAKHWINDER SINGH December 04th, 2019 15:18 IST

do not deserve bail corrupt polition playing hide n seek with law using his power for las tfew years