दैनिक भास्कर हिंदी: जगन्नाथ रथयात्रा पर रोक नहीं लगनी चाहिए : विहिप

June 21st, 2020

हाईलाइट

  • जगन्नाथ रथयात्रा पर रोक नहीं लगनी चाहिए : विहिप

नई दिली, 21 जून (आईएएनएस)। विश्व हिंदू परिषद् (विहिप) का मानना है कि पुरी में सदियों से भगवान जगन्नाथ की रथयात्रा निकालने की चल रही परंपरा कोरोना महामारी के कारण टूटनी नहीं चाहिए। सभी नियमों व स्वास्थ्य संबंधी उपायों के साथ यात्रा निकाली जा सकती है। संगठन चाहता है कि सर्वोच्च न्यायालय रथयात्रा पर रोक लगाने के अपने फैसले पर फिर से विचार करे।

विहिप के केंद्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने यहां रविवार को कहा, गत सैकड़ों वर्षो से अनवरत रूप से पुरी में निकाली जाने वाली भगवान श्रीजगन्नाथ की परंपरागत रथयात्रा इस वर्ष भी निकाली जानी चाहिए। कोविड महामारी के संकट काल में भी सभी नियमों तथा जन स्वास्थ्य संबंधी उपायों के साथ यात्रा निकाली जा सकती है।

उन्होंने कहा कि परंपरा की अखंडता सुनिश्चति करने के लिए कोई मार्ग अवश्य ढूंढा जाना चाहिए। आज की परिस्थतियों में यह अपेक्षा कदापि नहीं है कि यात्रा में हमेशा की तरह 10 लाख भक्त एकत्रति हों।

विहिप के महामंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी के संकट काल में भी, जन-स्वास्थ्य की रक्षा करते हुए, प्राचीन परंपरा की अखंडता सुनिश्चति करने के लिए उचित मार्ग निकालना राज्य सरकार का दायित्व है। राज्य सरकार अपने इस दायित्व के पालन में पूरी तरह विफल रही है। असल में, ओडिशा सरकार माननीय सर्वोच्च न्यायालय के समक्ष इस संबंध में सभी पहलू ठीक से नहीं रख पाई।

परांडे ने यह भी कहा कि सर्वोच्च न्यायालय को इस संबंध में निर्णय लेने से पहले सभी संबंधित पक्षों को सुनना चाहिए था।

खबरें और भी हैं...