यूक्रेन से निकासी: जयशंकर व्यक्तिगत रूप से कर रहे हालात की निगरानी

February 26th, 2022

हाईलाइट

  • विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा हमारी टीमें चौबीसों घंटे काम कर रही हैं

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने शनिवार को कहा कि युद्धग्रस्त यूक्रेन में फंसे भारतीय नागरिकों को निकालने की स्थिति की वह व्यक्तिगत रूप से निगरानी कर रहे हैं। जयशंकर ने ट्वीट किया, यूक्रेन से भारतीय नागरिकों को निकालने के काम में हम प्रगति कर रहे हैं। हमारी टीमें चौबीसों घंटे काम कर रही हैं और मैं व्यक्तिगत रूप से निगरानी कर रहा हूं। गुरुवार तड़के रूस और यूक्रेन के बीच संघर्ष तेज हो गया, जब रूसी सेना ने यूक्रेन पर बड़ा हमला किया, शहरों और सैन्य प्रतिष्ठानों पर मिसाइल दागी और वहां रहने वाले भारतीय नागरिकों के लिए गंभीर खतरा पैदा कर दिया।

जयशंकर ने आगे बताया कि 219 भारतीय नागरिकों के साथ मुंबई के लिए पहली उड़ान ने रोमानिया से उड़ान भरी है। इससे पहले, शनिवार को कीव में भारतीय दूतावास ने यूक्रेन में भारतीय नागरिकों के लिए एक नई एडवाइजरी जारी की, जिसमें उन्हें भारत सरकार के साथ पूर्व समन्वय के बिना किसी भी सीमा चौकी पर नहीं जाने की चेतावनी दी गई।

भारतीय दूतावास ने आगे कहा कि विभिन्न चौकियों पर स्थिति संवेदनशील है और कीव में भारतीय दूतावास भारतीय नागरिकों को निकालने के लिए अन्य देशों के दूतावासों के साथ लगातार काम कर रहा है। केंद्रीय पीएमओ राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने भी युद्धग्रस्त देश में भारतीय छात्रों को वहां के भारतीय दूतावास के संपर्क में रहने की सलाह दी है। इस बीच, यूक्रेन में फंसे 470 भारतीय छात्रों के शनिवार को यहां राष्ट्रीय राजधानी पहुंचने की उम्मीद है।

(आईएएनएस)