comScore

प्रधानमंत्री से मिलने के बाद केजरीवाल पुलिस पर तल्ख

March 03rd, 2020 20:01 IST
 प्रधानमंत्री से मिलने के बाद केजरीवाल पुलिस पर तल्ख

हाईलाइट

  • प्रधानमंत्री से मिलने के बाद केजरीवाल पुलिस पर तल्ख

नई दिल्ली, 3 मार्च (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के लिए दिल्ली पुलिस को कटघरे में खड़ा किया है। केजरीवाल ने कहा कि पुलिस मुस्तैद होती तो उत्तर-पूर्वी दिल्ली में जान-माल का नुकसान रोका जा सकता था। दिल्ली पुलिस पर यह तल्ख टिप्पणी केजरीवाल की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से हुई मुलाकात के बाद आई है।

मुख्यमंत्री ने कहा, बीते रविवार को बड़े पैमाने पर अफवाहें फैलीं, दिल्ली पुलिस ने बहुत ही मुस्तैदी से अच्छा काम किया।

दिल्ली पुलिस की प्रशंसा के साथ ही मुख्यमंत्री ने पुलिस पर बड़ा तंज भी कसा है। उन्होंने कहा, अगर ऐसी ही मुस्तैदी पिछले सोमवार और मंगलवार की रात भी होती तो कई जान बचाई जा सकती थीं।

खास बात यह कि मुख्यमंत्री केजरीवाल ने यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद कही। केजरीवाल प्रधानमंत्री से मुलाकात करने मंगलवार सुबह संसद स्थित प्रधानमंत्री के कार्यालय गए थे।

गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस केंद्रीय गृहमंत्रालय के अंर्तगत काम करती है। प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद केजरीवाल ने अपने बयान में हिसा फैलने के लिए दिल्ली पुलिस को भी जिम्मेदार ठहराया है। तीसरी बार मुख्यमंत्री पद संभालने के बाद यह पहला मौका है जब मुख्यमंत्री केजरीवाल ने सीधे केंद्र सरकार की किसी एजेंसी को कटघरे में खड़ा किया है।

दरअसल, इस रविवार दिल्ली के मंगोलपुरी, सुल्तानपुरी, रोहिणी, ख्याला, रघुवीर नगर, नांगलोई आदि इलाकों में हिंसा की झूठी अफवाह फैलाई गई। हालांकि इस दौरान दिल्ली पुलिस ने सही समय पर एक्शन लेते हुए स्थिति को काबू में कर लिया। पुलिस ने बाजारों, रिहायशी इलाकों व चौक-चौराहों पर पहुंचकर लोगों को बताया कि हिंसा की खबरें झूठी अफवाह भर हैं। पुलिस ने इस सिलसिले में अफवाह फैलाने वाले कई लोगों को गिरफ्तार भी किया है।

केजरीवाल ने पुलिस की इस मुस्तैदी की तारीफ करते हुए कहा दिल्ली पुलिस को ऐसी ही सर्तकता उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के दौरान दिखानी चाहिए थी।

आम आदमी पार्टी के नेता उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिसा के बाद से लगातार दिल्ली पुलिस के रवैये पर सवाल उठा रहे हैं। पार्टी के वरिष्ठ नेता व दिल्ली सरकार में पर्यावरण मंत्री गोपाल राय और संजय सिंह पहले ही कह चुके हैं कि हिसा के दौरान जहां पुलिस की जरूरत थी, उन स्थानों पर दिल्ली पुलिस समय रहते नहीं पहुंची।

गोपाल राय ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा, पुलिस निर्दोष लोगों को उठा रही है, निर्दोष और मासूम लोगों को तंग नहीं किया जाना चाहिए। पुलिस की भूमिका को लेकर मंत्री राय ने सोमवार शाम दिल्ली पुलिस आयुक्त एस.एन. श्रीवास्तव से भी मुलाकात की थी।

कमेंट करें
PI15Y