चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया: लखीमपुर खीरी हिंसा पर सुप्रीम कोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान

October 6th, 2021

हाईलाइट

  • लखीमपुर की ओर राहुल गांधी का कूच

डिजिटल डेस्क, लखीमपुर खीरी। लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने स्वत: संज्ञान लिया है, गुरूवार को सीजेआई इस मामले पर सुनवाई् करेंगे। बता दें कि इस हिंसा में 4 किसान समेत 8 लोगों की मौत हो गई थी। केंद्रीय मंत्री के बेटे पर किसानों के ऊपर गाड़ी चढ़ाने का आरोप लगा है।

यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्रीनिवास ने ट्ववीट कर कहा कि अंततः तानाशाहों की हर साजिश हुई नाकाम, न्याय की आवाज़ बुलंद करने लखीमपुर पहुंचे श्री राहुल गांधी जी, श्रीमती प्रियंका गांधी व अन्य नेतागण। अंततः तानाशाहों की हर साजिश हुई नाकाम, न्याय की आवाज़ बुलंद करने लखीमपुर पहुंचे श्री राहुल गांधी जी, श्रीमती प्रियंका गांधी व अन्य नेतागण।

राहुल पहुंचे प्रतिनिधि मंंडल के साथ लखीमपुर खीरी

कहीं ओर भेजे गए पायलट!

लखीमपुर के लिए जा रहे राजस्थान के कांग्रेस नेता सचिन पायलट को मुरादाबाद में पुलिस ने  हिरासत में लिया। 

लखीमपुर के लिए निकले राहुल और प्रियंका

सीतापुर में प्रियंका गांधी से मिले राहुल गांधी। दोनों अपने काफिले के साथ लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हुए।

प्रियंका से मिलेंगे राहुल

राहुल गांधी अपने काफिले के साथ लखीमपुर पहुंच चुके हैं। यहां वो सबसे पहले अपनी बहन और पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी से मुलाकात करेंगे। उसके बाद पीड़ित परिवार से मिलने जाएंगे।

प्रियंका गांधी 'रिहा'

प्रियंका गांधी को भी अब तक रेस्टहाउस में गिरफ्तार कर रखा गया था। पर, अब उन्हें रिहा कर दिया गया है। तकरीबन ढाई दिन रेस्टहाउस में रहीं प्रियंका गांधी, पहले नजरबंद और फिर गिरफ्तार रखा गया। अब उन्हें भी रिहा कर दिया गया है। प्रियंका गांधी अब राहुल गांधी का लखीमपुर खीरी पहुंचने का इंतजार कर रही हैं।

धरने के बाद मिली परमिशन

राहुल गांधी अपने दल के साथ एयरपोर्ट से बाहर निकले, लखीमपुर खीरी के लिए हुए रवाना।

राहुल को फिर रोका

राहुल गांधी लखनऊ पहुंच गए हैं। यहां से उन्हें लखीमपुर के लिए रवाना होना था। पर, फिलहाल उन्हें एयरपोर्ट पर ही रोक लिया गया है। बताया जा रहा है कि राहुल गांधी अपने साथियों के साथ अपनी कार से जाना चाहते हैं। पर, उन्हें अपने वाहन से जाने की इजाजत नहीं मिल रही है। इस बात पर जिद पर अड़े राहुल गांधी, भूपेश बघेल और चरणजीत सिंह चन्नी के साथ वहीं धरने पर बैठ गए हैं।

अजय मिश्रा की अमित शाह से मुलाकात

लखीमपुर खीरी मामले के बाद पहली बार दिल्ली पहुंचे केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी की केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से हुई मुलाकात। तकरीबन  20 मिनट चली मुलाकात। मुलाकात के दौरान टेनी ने जांच में सहयोग करने का दिया आश्वासन।

राहुल-प्रियंका को मिली अनुमति

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को लखीमपुर खीरी जाने की अनुमति मिल गई है। अपने साथ तीन और लोगों को लेकर वो लखीमपुर खीरी जा सकेंगे।

लखनऊ से दिल्ली के लिए रवाना
राहुल गांधी कुछ ही देर में लखनऊ के लिए दिल्ली से रवाना होने वाले हैं। उनके साथ छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल और पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी भी मौजूद हैं। वहीं कांग्रेस नेता सचिन पायलट भी अपने सहयोगियों के साथ सीतापुर के लिए निकल चुके हैं।

अजय मिश्रा टेनी दिल्ली पहुंचे

लखीमपुर खीरी की घटना के बीच केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा टेनी दिल्ली पहुंच गए हैं। लखीमपुर खीरी की घटना के बाद से वो अब दिल्ली आए हैं। बता दें उन्हीं के बेटे पर लखीमपुर खीरी की दर्दनाक घटना को अंजाम देने के आरोप लगे हैं।

केजरीवाल ने उठाए बड़े सवाल

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कांग्रेस के सुर में सुर मिलाते हुए लखीमपुर खीरी पर बड़े सवाल खड़े किए हैं। केजरीवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में सवाल किया कि आखिर घटना को अंजाम देने वालों को क्यों बचाया जा रहा है। आखिर क्या मजबूरी है कि हत्यारों की गिरफ्तारी अब तक नहीं हुई है।

सचिन पायलट का काफिला रोका

गाजीपुर बॉर्डर पर सचिन पायलट का काफिला रोक दिया गया। यूपी के सीतापुर जाने की कोशिश में हैं पायलट। रोके जाने से कांग्रेस कार्यकर्ताओं में नाराजगी दिखी, जिसके बाद हंगामा जारी है।

राहुल गांधी के गंभीर आरोप

लखीमपुर के लिए रवाना होने से पहले राहुल गांधी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। राहुल गांधी नेकहा कि देश के किसानों पर सरकार आक्रमण कर रही है। किसानों को जीप के नीचे कुचलने जैसी घटनाएं हो रही हैं। ऐसी घटना को अंजाम देने वाले मंत्री पुत्र पर कोई एक्शन नहीं लिया गया है। राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी से भी सवाल किया कि जब वो लखनऊ में ही थे तो लखीमपुर तक क्यों नहीं गए। 

खबरें और भी हैं...