दैनिक भास्कर हिंदी: देश के अधिकांश हिस्सों में भारी बारिश से जनजीवन प्रभावित, यहां हैं बाढ़ जैसे हालात

August 8th, 2019

हाईलाइट

  • कर्नाटक और महाराष्ट्र में कई क्षेत्रों में बारिश का तांडव
  • ओडिशा के कई हिस्सों में बाढ़ जैसी स्थिति निर्मित हुई
  • पश्चिमी महाराष्ट्र में भारी बारिश ने ली 16 लोगों की जान

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। देशभर के अधिकांश हिस्सों में तेज बारिश के चलते जन जीवन प्रभावित होता नजर आ रहा है। जहां आसमान से एक बार फिर काली घटाओं ने बरसना शुरु कर दिया है, इसके चलते नदी नाले उफान पर आ गए हैं। वहीं गुरुवार को मौसम विभाग ने भारी बारिश को लेकर कई राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया है। मौसम विभाग ने पश्चिम मध्य प्रदेश, कोंकण और गोवा, मध्य महाराष्ट्र और तटीय कर्नाटक में भारी से भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। 

अब तक कर्नाटक और महाराष्ट्र में बारिश के तांडव से कई क्षेत्रों में बाढ़ की स्थिति निर्मित हो गई है, वहीं कई बाढ़ प्रभावित हिस्सों में स्थिति गंभीर बनी हुई है। यहां करीब 2.5 लाख लोगों को अन्य स्थानों पर पहुंचाया गया है। पिछले सात दिनों में पश्चिमी महाराष्ट्र में बारिश और बाढ़ से संबंधित घटनाओं में 16 लोगों की मौत हुई है, जबकि कर्नाटक में रविवार से अब तक पांच लोगों की जान जा चुकी है।  

कर्नाटक के मैसूर में स्थित काबिनी बांध के जल स्तर में 46,000 क्यूसेक वृद्धि हुई है। बांध से 40,000 क्यूसेक पानी छोड़ा गया। काबिनी डैम में जल स्तर वर्तमान में 2281.5 फीट और अधिकतम स्तर 2284 फीट है। 

ओडिशा के कई हिस्सों में बाढ़ जैसी स्थिति निर्मित हो गई है। यहां दक्षिणी क्षेत्र में कुछ इलाकों में रेल सेवाएं बाधित रहीं। आपको बता दें कि कर्नाटक के कई हिस्सों में बुधवार को भी बाढ़ की स्थिति रही, जिसकी वजह से लगभग 26,000 लोगों को उनके घरों से निकाला गया। 

राजस्थान में जहां पिछले दिनों तेज बारिश ने तबाही मचाई वहीं यहां एक बार फिर से यह तांडव देखने को मिल सकता है।  राज्य के पूर्वी हिस्सों में पिछले 24 घंटों के दौरान कई स्थानों पर और पश्चिमी हिस्सों में कुछ स्थानों पर बारिश का दौर जारी रहा। वहीं मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटों के दौरान राज्य के कुछ जिलों में मूसलाधार बारिश और राजधानी जयपुर सहित 11 जिलों में भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की है। 

केरल में भी भारी बारिश से आई बाढ़ ने जन जवीन अस्त व्यस्त कर दिया है।  केरल राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने  इदुक्की, मलप्पुरम, कोझीकोड के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। इसके अलावा त्रिशूर, पलक्कड़, वायनाड, कन्नूर, कासरगोड के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है। 

बात करें बात करें मप्र की तो यहां मप्र के 28 जिलों में भारी बारिश की आशंका मौसम विभाग ने जताई है। बीते दो दिनों से कई जिलों में हुई लगातार बारिश के चलते नदी नाले उफान पर हैं। मप्र के बैतुल में ताप्ती नदी का पानी ताप्ती मंदिर में घुस गया है।