comScore

ममता का विवादित बयान, कहा- मोदी से नहीं डरती, थप्पड़ मारने का मन करता है


हाईलाइट

  • ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित बयान दिया है
  • ममता ने कहा कि मैंने ऐसा झूठा प्रधानमंत्री नहीं देखा
  • ममता ने कहा कि मुझे पीएम मोदी को थप्पड़ मारने का मन करता है

डिजिटल डेस्क, कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ विवादित बयान दिया है। ममता ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मैंने ऐसा झूठा प्रधानमंत्री नहीं देखा। चुनाव आते ही वह राम नाम जपने लगते हैं। ममता ने कहा कि जब पीएम बंगाल आकर तृणमूल कांग्रेस की बुराई करते हैं, तो मुझे उन्हें थप्पड़ मारने का मन करता है।

ममता ने कहा, 'पीएम ने पांच साल पहले अच्छे दिन लाने की बात कही थी, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। वहीं देश को नोटबंदी के दौर से गुजरना पड़ा। मैं बीजेपी के नारों में विश्वास नहीं करती और न ही पैसा मेरे लिए कोई मायने रखता है। पीएम मोदी बार बार यहां आकर मेरी पार्टी की बुराई करते हैं और कहते हैं कि TMC लुटेरों से भरी है, तो मुझे उन्हें थप्पड़ मारने का मन हुआ था। दिल्ली में मोदी पांच साल से है। मैंने बहुत संघर्ष किया है। मैं खुद को बेचकर राजनीति नहीं किया। मैं मोदी से नहीं डरती।'

ममता ने कहा, पीएम मोदी बहुत झूठ बोलते हैं। उन्होंने असम से 22 लाख बंगालियों के नाम हटवा दिए। महाराष्ट्र और यूपी से बिहारियों को भगा दिया। अब वह बंगाल आकर यहां एनआरसी की बात कर रहे हैं। ऐसा क्यों होता है कि जब बंगाल में कोई प्राकृतिक आपदा आती है, तो पीएम नहीं आते हैं। देश में 12 हजार किसान आत्महत्या कर चुके हैं। पीएम सिर्फ देश में दंगे फैला'ने की कोशिश कर रहे हैं और लोगों को धर्म के आधार पर बांट रहे हैं।'

ममता ने कहा, 'यूपी जो कि कभी चमड़ा उत्पादन का केंद्र हुआ करता था, उसकी इंडस्ट्री अब बंगाल आ गई है। गैस और केबल टीवी अब बंगाल के लगभग सभी घरों में हैं। पीएम मोदी हमारी सरकार की उपलब्धियों की बात करते हैं। क्या पीएम मोदी को पुरुलिया के आदिवासी गांवों के बारे में पता है? अब तक उस गांव में 300 ITI कॉलेज बनवाए जा चुके हैं।' 

इससे पहले पश्चिम बंगाल के झरग्राम में चुनाव प्रचार के दौरान ममता ने कहा था कि 'मैं नरेंद्र मोदी को देश का प्रधानमंत्री नहीं मानती, इसलिए मैंने उनके साथ मीटिंग नहीं की। मैं उनके साथ एक प्लेटफॉर्म साझा नहीं करना चाहती। अब मैं अगले प्रधानमंत्री से ही बात करूंगी।' 

मोदी से नहीं  की थी बात 

बता दें कि पीएम मोदी ने फानी तूफान से पश्चिम बंगाल में हुए नुकसान पर चर्चा के लिए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को संपर्क करने की कोशिश की थी, लेकिन कई प्रयासों के बावजूद ममता बनर्जी ने उनकी चर्चा के अनुरोधों का जवाब नहीं दिया। इसके बाद प्रधानमंत्री ने ममता पर निशाना साधते हुए कहा था कि 'पश्चिम बंगाल की स्पीड ब्रेकर दीदी ने इस चक्रवात में भी राजनीति करने की भरपूर कोशिश की है। चक्रवात के समय मैंने ममता दीदी से फोन पर बात करने की कोशिश की थी, लेकिन दीदी का अहंकार इतना ज्यादा है कि उन्होंने बात नहीं की। कुछ लोग मोदी का विरोध करते हुए देश का विरोध करने लगते हैं। ये वहीं लोग हैं, जिन्हें सेना की एयर स्ट्राइक पर शक हैं और आतंकियों की लाशें गिनने की मांग करते हैं। 

कमेंट करें
Y2FpB