comScore

मनमोहन जाएंगे करतारपुर, मोदी राज्य समारोहों में होंगे शामिल, स्वीकारा कैप्टन का न्योता

मनमोहन जाएंगे करतारपुर, मोदी राज्य समारोहों में होंगे शामिल, स्वीकारा कैप्टन का न्योता

हाईलाइट

  • पूर्व पीएम मनमोहन सिंह करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाएंगे
  • पंजाब के मुख्यमंत्री ने मनमोहन सिंह, पीएम मोदी ओर प्रेसिडेंट कोविंद को न्योता भेजा था
  • पीएम मोदी और राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद भी राज्य में होने वाले समारोहों में शामिल होंगे

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने वाले पहले जत्थे का हिस्सा बनने के लिए सहमत हो गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद भी राज्य में होने वाले समारोहों में शामिल होंगे। पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने मनमोहन सिंह, पीएम मोदी ओर प्रेसिडेंट कोविंद को गुरु नानक देव के 550वें प्रकाश पर्व समारोह में शामिल होने के लिए निमंत्रण भेजा था।

कैप्टन अमरिंदर ने ये भी साफ किया कि वह करतारपुर कॉरिडोर की ओपनिंग में पाकिस्तान नहीं जाएंगे वह केवल कॉरिडोर के माध्यम से करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाएंगे। अमरिंदर ने कहा, मुझे लगता है मनमोहन सिंह भी ऐसा ही करेंगे।

करतारपुर कॉरिडोर पाकिस्तान में दरबार साहिब को गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक से जोड़ेगा। पाकिस्तान ने भारत के 5,000 सिख तीर्थयात्रियों को कॉरिडोर के माध्यम से नरोवाल में दरबार साहिब के लिए डेली बेसिस पर यात्रा करने की अनुमति देने पर सहमति व्यक्त की है।

इससे पहले कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर कहा था, 'पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह से आज उनके निवास पर मुलाकात कर खुशी हुई। गुरु नानक देव जी के 550 वें प्रकाश पर्व पर उन्हें करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने वाले पहले जत्थे में शामिल होने और सुल्तानपुर लोधी में मुख्य कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है।'

पाकिस्तान 9 नवंबर को गुरु नानक देव की 550वीं जयंती से पहले भारतीय सिख तीर्थयात्रियों के लिए करतारपुर कॉरिडोर खोलेगा। पिछले हफ्ते पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा था कि 'हम भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को ऐतिहासिक करतारपुर कॉरिडोर के उद्घाटन समारोह के लिए सिख समुदाय के प्रतिनिधि के रूप में आमंत्रित करेंगे। नवंबर 2018 में भारत और पाकिस्तान ने करतारपुर में गुरुद्वारा दरबार साहिब को जोड़ने वाला कॉरिडोर बनाने पर सहमति जताई थी। करतारपुर पाकिस्तान के नोरोवाल जिले में रावी नदी के पास और डेरा बाबा नानक से करीब चार किलोमीटर पर स्थित है।

कमेंट करें
DSnJh