comScore

प्याज के बढ़ते दामों से मिलेगी राहत, तुर्की से आएगा 11,000 मीट्रिक टन प्याज

प्याज के बढ़ते दामों से मिलेगी राहत, तुर्की से आएगा 11,000 मीट्रिक टन प्याज

हाईलाइट

  • तुर्की से दिसंबर अंत तक या जनवरी की शुरुआत में भारत पहुंचेगा
  • दिसंबर के मध्य तक मिस्र से 6090 मीट्रिक टन प्याज भारत आ जाएगा
  • केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले महीने 1.2 लाख टन प्याज आयात करने की मंजूरी दी थी

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। प्याज के भाव को लेकर देशभर में परेशान हो रहे लोगों के लिए राहत भरी खबर है। सरकार ने तुर्की से 11 हजार मीट्रिक टन प्याज आयात का फैसला किया है। इससे भारत में लगातार बढ़ती प्याज की कीमतों पर लगाम लगेगी। 

अपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि MMTC ने 11 हजार मीट्रिक टन प्याज के आयात का ऑर्डर दे दिया है। यह दिसंबर अंत तक या जनवरी की शुरुआत तक भारत पहुंच जाएगा। सरकार ने मिस्र से भी 6090 मीट्रिक टन प्याज मंगाया है, जो दिसंबर के मध्य तक भारत पहुंचेगा। इससे प्याज की कीमतों में थोड़ी राहत की उम्मीद की जा रही है।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले महीने 1.2 लाख टन प्याज आयात करने की मंजूरी दी थी। दिल्ली समेत कई राज्यों में प्याज की आवक काफी घट गई है। वहीं देश के कई हिस्सों में प्याज की खुदरा कीमतें 75 से 120 रुपए प्रति किलोग्राम तक पहुंच गईं हैं। ऐसे में प्याज की आपूर्ति बढ़ाने के लिए सरकार ने इसके आयात सहित कई कदम उठाए हैं। 

जानकारों का कहना है कि पुराना स्टॉक लगभग खत्म होने को है और नासिक और गुजरात की नई फसल आने में अभी करीब डेढ़ महीने का समय है। 15 जनवरी के बाद ही प्याज की बढ़ी कीमतों से पूरी तरह से राहत मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। दिल्ली में फिलहाल अलवर से प्याज की आवक हो रही है।

वहीं, प्याज के निर्यात पर पहले ही रोक लगा दी गई है। साथ ही थोक और खुदरा विक्रेताओं के लिए प्याज के भंडारण की अधिकतम सीमा तय कर दी है। मिस्र से 6,090 टन प्याज इस महीने के दूसरे सप्ताह में मुंबई के जवाहर नेहरू पोर्ट टर्मिनल पर पहुंच जाएगा।

प्याज के भाव पर नियंत्रण के लिए गृहमंत्री अमित शाह की अगुवाई में मंत्रियों का एक समूह बनाया गया है। इसमें वित्त मंत्री, उपभोक्ता मामलों के मंत्री, कृषि मंत्री और सड़क परिवहन मंत्री शामिल हैं।

कमेंट करें
Vwrjo