दैनिक भास्कर हिंदी: कुल्लू में भीषण हादसा, 500 फीट गहरी खाई में गिरी बस, 40 से ज्यादा यात्रियों की मौत

June 21st, 2019

हाईलाइट

  • हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में गुरुवार को एक प्राइवेट बस खाई में गिर गई
  • इस हादसे में 30 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई
  • पीएम नरेन्द्र मोदी ने इस हादसे पर दुख जताया है

डिजिटल डेस्क, मनाली। हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में गुरुवार को एक प्राइवेट बस खाई में गिर गई। इस हादसे में 40 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है, जबकि करीब 25 लोग घायल बताए जा रहे हैं। हादसा शाम चार बजे के करीब हुआ है। इस बस में 60 से ज्यादा लोग सवार थे और बस की छत पर भी कुछ लोग बैठे हुए थे। हादसे के बाद राहत और बचाव दल मौके पर पहुंच गया और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। पीएम मोदी ने इस हादसे पर दुख जताया है।

PMO ने ट्वीट कर कहा 'कुल्लू बस हादसे में जान गंवाने वालों के परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। मैं उम्मीद करता हूं कि हादसे में घायल लोग जल्द ठीक हो जाएंगे। हिमाचल प्रदेश सरकार हर संभव सहायता प्रदान कर रही है।' सीएम जयराम ठाकुर ने भी ट्वीट में लिखा है कि कुल्लू के अंतर्गत बंजार के समीप बस हादसे में मौत व लोगों के घायल होने के समाचार से दुखी हूं। ईश्वर दिवंगत आत्माओं को शांति, शोकग्रस्त परिवारों को दुख सहने की शक्ति दें। हमारी सरकार पीड़ित परिवारों के साथ है, उन्हें फौरी राहत दी जा रही है। 

जानकारी के अनुसार महावीर बस सर्विस की ओवरलोड बस HP66-7065 कुल्लू से गाड़ागुशैणी की तरफ जा रही थी। बंजार बस स्टैंड से निकलने के बाद, यह मुश्किल से 2 किमी की दूरी तय कर पाई थी कि भियोठ मोड़ के पास यह करीब 500 फीट गहरी खाई में गिर गई। बस में 60 से ज्यादा यात्री सवार थे। बताया जा रहा है बस ओवरलोड होने के कारण चढ़ाई पर आगे नहीं बढ़ पाई और पीछे की ओर खाई में जा गिरी। हादसा इतना भीषण था कि बस के परखच्चे उड़ गए। बस में सवार ज्यादातर यात्री बंजार स्कूल और कॉलेज के छात्र थे।

हादसे की जानकारी मिलते ही डॉक्टरों के साथ जिला प्रशासन और जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की टीमों ने मौके पर पहुंचकर बचाव और राहत कार्य शुरू किया। बड़ी संख्या में घायलों को बस से बाहर निकाला गया और उन्हें एंबुलेंस और स्थानीय वाहनों में अस्पताल ले जाया गया। कुल्लू जिला प्रशासन ने मृतक और घायल व्यक्तियों के परिजनों को तत्काल राहत के रूप में 50,000 रुपये की घोषणा की है।