दैनिक भास्कर हिंदी: सबरीमाला: मंदिर में प्रवेश करने वाली महिला को सास ने पीटा, अस्पताल में भर्ती

January 15th, 2019

हाईलाइट

  • सबरीमाला मंदिर में प्रवेश करने वाली महिला को सास ने पीटा
  • महिला के मंदिर में प्रवेश करने से नाराज थी सास
  • महिला का निजी अस्पताल में इलाज जारी

डिजिटल डेस्क, तिरुवनंतपुरम। सबरीमाला मंदिर की 800 साल पुरानी प्रथा तोड़ने वाली महिला कनकदुर्गा अब अस्पताल में अपना इलाज करवा रही है। दरअसल मंदिर में प्रवेश करने के बाद से कनकदुर्गा की सास उससे नाराज थी। गुस्साई सास ने उसके साथ जमकर मारपीट की। जिसके बाद कनकदुर्गा को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। 

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश  बाद 39 वर्षीय कनकदुर्गा और उसकी महिला साथी 40 वर्षीय बिंदु ने 2 जनवरी को भगवान अयप्पा के दर्शन कर 800 साल पुरानी प्रथा को तोड़ा था। दोनों ने मंदिर में पूजा अर्चना भी की थी। इसके बाद पूरे राज्य में प्रदर्शन भड़क गए थे। साथ ही मंदिर का शुद्धिकरण भी किया गया था। उस वक्त मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने कनकदुर्गा और बिंदु समेत सभी महिला दर्शनार्थियों को पूरी सुरक्षा देने के निर्देश दिए थे।

सबरीमाला मंदिर विवाद पर सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए 28 सिंतबर को हर उम्र की महिला को प्रवेश की इजाजत दी थी। जिस पर अय्यपा के समर्थकों ने पुनर्विचार याचिका दायर की थी। इस पर कोर्ट ने सुनवाई से इंकार कर दिया था। अयप्पा मंदिर में 10 से 50 साल तक उम्र की महिलाओं के प्रवेश पर रोक है, लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इस रोक को हटा दिया है।

बता दें कि अब तक यह साफ नहीं है कि कितनी महिलाएं सबरीमाला में दर्शन कर चुकी हैं। हालांकि, रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि इस साल अब तक 10 महिलाएं मंदिर में दाखिल हो चुकी हैं। भाजपा और हिंदू संगठन मंदिर में महिलाओं के प्रवेश का विरोध कर रहे हैं।

खबरें और भी हैं...