आईईडी मामला : दिल्ली के सीमापुरी क्षेत्र में एनआईए और एटीएस के अधिकारियों ने ली तलाशी

February 18th, 2022

हाईलाइट

  • उत्तर प्रदेश के आतंकवाद निरोधी दस्ते के अधिकारियों ने उस क्षेत्र की तलाशी ली

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की एक टीम शुक्रवार सुबह राष्ट्रीय राजधानी के सीमापुरी क्षेत्र पहुंची, जहां बृहस्पतिवार को एक इम्प्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) मिला था।

एनआईए के अलावा, उत्तर प्रदेश के आतंकवाद निरोधी दस्ते के अधिकारियों ने उस क्षेत्र की तलाशी ली, जहां भारी मात्रा में विस्फोटक पाया गया था।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बृहस्पतिवार को करीब तीन किलो आईईडी बरामद किया जिसे बाद में बम निरोधक दस्ते ने निष्क्रिय कर दिया। आईईडी में आरडीएक्स और अमोनियम नाइट्रेट का मिश्रण मिला है।

सूत्रों ने आईएएनएस को बताया, आईईडी के साथ एक टाइमर डिवाइस भी लगाया गया था।

14 जनवरी को राष्ट्रीय राजधानी के गाजीपुर फूल बाजार क्षेत्र में बरामद हुए विस्फोटकों के बाद दिल्ली पुलिस द्वारा की गई छापेमारी के दौरान यह आईईडी पाया गया।

बृहस्पतिवार को स्पेशल सेल की टीम ने शहर की घनी आबादी वाले सीमापुरी इलाके में स्थित एक घर में छापेमारी की तो उन्हें एक संदिग्ध बैग मिला।

दिल्ली पुलिस ने संदिग्ध बैग के बारे में राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड (एनएसजी) को सतर्क किया और पूरे इलाके की घेराबंदी की गई।

एनएसजी बम निरोधक दस्ते ने अगर बम को समय पर नहीं ढूंढा और डिफ्यूज किया होता, तो कई लोगों की जान भी जा सकती थी।

जिस घर से आईईडी बरामद किया गया, उसमें करीब तीन से चार लोग रह रहे थे। हालांकि, छापेमारी करने वाली टीमों के पहुंचने से पहले ही वे फरार हो गए। मकान का मालिक उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले में रहता है।

(आईएएनएस)