दैनिक भास्कर हिंदी: पाक की धमकी पर बोले पीएम - भारत ने परमाणु हथियार दिवाली के लिए नहीं रखे हैं

April 22nd, 2019

हाईलाइट

  • रविवार को बाड़मेर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पाकिस्तान को चेतावनी दी।
  • पीएम ने कहा कि अगर उसके पास न्यूक्लियर बटन है तो भारत ने भी अपने न्यूक्लियन वैपन को दिवाली के लिए नहीं रखा है।
  • पीएम मोदी ने कहा, भारत ने पाकिस्तान की धमकी से डरने की नीति को छोड़ दिया है।

डिजिटल डेस्क, बाड़मेर। पाकिस्तान और उसके न्यूक्लियर वेपन के बारे में जब भी बातें होती हैं तो पूरी दुनिया के कान खड़े हो जाते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि न्यूक्लियर ताकतों वाला सबसे अस्थिर देश पाकिस्तान ही है। कई बार वह भारत को न्यूक्लियर हमले की धमकी भी देता रहा है। एसे में रविवार को बाड़मेर में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने पाकिस्तान को चेतावनी दी कि अगर उसके पास न्यूक्लियर बटन है तो भारत ने भी अपने न्यूक्लियन वैपन को दिवाली के लिए नहीं रखा है।

पीएम मोदी ने कहा, भारत ने पाकिस्तान की धमकी से डरने की नीति को छोड़ दिया है। आए दिन पाकिस्तान कहता था हमारे पास न्यूक्लियर बटन है। अखबार वाले भी लिखते थे कि पाकिस्तान के पास न्यूक्लियर वेपन है।' पीएम ने कहा, 'तो हमारे पास क्या है भाई ये दिवाली के लिए रखा है क्या?' इसके अलावा पीएम ने ये भी कहा कि हमने आतंकियों के मन में डर पैदा किया है। हमने पाकिस्तान की सारी हेकड़ी निकाल दी, उसे कटोरा लेकर दुनियाभर में घूमने के लिए मजबूर कर दिया। आप सबको लगता है मैंने ठीक किया, लेकिन कांग्रेस और उसके साथियों को लगता है कि ठीक नहीं किया।

 

 

कश्मीर मुद्दे पर बात करते हुए पीएम ने कहा, 1971 की लड़ाई में हमारे सैनिकों के शौर्य के कारण पाकिस्तान का एक बड़ा हिस्सा हमारे कब्जे में था, 90 हज़ार पाक सैनिक हमारे पास थे। लेकिन उसके बाद शिमला में क्या हुआ, सरकार ने टेबल पर सब गंवा दिया जो जवान जीतकर लाए थे। तब 90 हज़ार सैनिक भी वापस कर दिए और सारी ज़मीन भी। वो सुनहरा मौका था जम्मू कश्मीर की समस्या को हल करने का, घुसपैठ की समस्या को हल करने का, लेकिन कांग्रेस ने मौका गंवा दिया।

आज भारत ने बिना युद्ध के पाकिस्तान की सीमा के भीतर घुसकर आतंकियों को ढेर कर रहा है। पाकिस्तान पूरी दुनिया में रो रहा है। पूरी दुनिया आज भारत के साथ खड़ी है। हमारी सरकार के दौरान ही भारत दुनिया की उन शक्तियों में शामिल हुआ जिनके पास जल, थल, नभ, तीनों जगहों से न्यूक्लियर हमला करने की क्षमता है। हाल में, तो एक बहुत बड़ा काम किया गया है। अंतरिक्ष में भी हमारे संसाधनों को बचाने की क्षमता हमने हासिल की है।