comScore

सीसीटीवी फुटेज में दिखे पीएम की भतीजी दमयंती मोदी का सामान लूटने वाले आरोपी

सीसीटीवी फुटेज में दिखे पीएम की भतीजी दमयंती मोदी का सामान लूटने वाले आरोपी

हाईलाइट

  • अमृतसर से दिल्ली आई थीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती बेन मोदी
  • अहमदाबाद की फ्लाइट के टिकट भी पर्स के साथ ले गए चोर

डिजिटल डेस्क, दिल्ली। दिल्ली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भतीजी दमयंती मोदी के साथ सिविल लाइंस थाना इलाके में शनिवार को हुई लूटपाट में आरोपियों की पहचान हो गई है। पुलिस के हाथ वारदात के सीसीटीवी फुटेज हाथ लगे हैं, जिनमें आरोपी साफ.साफ दिखाई दे रहे हैं। पुलिस ने उम्मीद जताई है​ कि जल्द ही अरोपियों को पकड़ लिया जाएगा।

दिल्ली पुलिस के प्रवक्ता अनिल मित्तल ने बताया कि घटना गुजराती समाज भवन के सीसीटीवी में कैद हुई है। हम आरोपियों के काफी करीब पहुंच गए हैं और कभी भी उन्हें गिरफ्तार कर सकते हैं। फुटेज के आधार पर पुलिस स्कूटी के नंबर से आरोपियों को ट्रेस कर रही है।

ज्ञात हो कि अमृतसर से शनिवार सुबह दिल्ली पहुंची पीएम मोदी की भतीजी दमयंती बेन मोदी का सामान लूट लिया था। आरोपी स्कूटी पर सवार होकर आए और दमयंती बेन मोदी के सामान पर अचानक झपट्टा मार दिया। दमयंती जब तक कुछ समझ पातीं, तब तक आरोपी फरार हो गए थे। बताया जा रहा है कि आरोपी पर्स में रखे 56 हजार रुपए नकदी, मोबाइल और फ्लाइट के टिकट झपटकर ले गए थे। दमयं​ती को इन टिकटों से वापस अहमदाबाद लौटना था।

पीएम मोदी के भतीजी के साथ लूटपाट की इस घटना पर सियासत भी शुरू हो गई है। दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने वारदात पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि राजधानी में लगातार लूट और स्नेचिंग की घटनाएं हो रही हैं और हम लगातार कहते आ रहे हैं कि इसके लिए 90 फीसदी अवैध घुसपैठिए जिम्मेदार हैं।उन्होंने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री उन्हें अपना भाई बताकर पहले पूर्वांचलियों को दिल्ली से भगाने की बात करते हैं। तिवारी ने कहा कि ऐसा कहकर मुख्यमंत्री ऐसे घुसपैठियों को संरक्षण देने का काम कर रहे हैं।

दमयंती बेन मोदी ने मीडिया को बताया कि मैं परिवार के साथ अमृतसर से दिल्ली आई थी। मुझे सिविल लाइंस इलाके में स्थित गुजराती समाज भवन पहुंचना था। जैसे ही मेरा ऑटो भवन के गेट के सामने पहुंचा, स्कूटी पर सवार दो बदमाशों ने मेरे ऊपर झपट्टा मार दिया। जब तक मैं कुछ समझ पाती बदमाश भाग गए। उन्होंने बताया​ ​कि बदमाश मेरा पर्स छीन ले गए, जिसमें 50 हजार रुपए से अधिक की नकदी, दो मोबाइल फोन और कई अहम कागजात भी थे। उन्होंने बताया कि शनिवार शाम को ही मुझे अहमदाबाद की फ्लाइट से वापस लौटना था। फ्लाइट का टिकट भी पर्स में थे। अब समझ नहीं आ रहा है कि आगे सब कैसे मैनेज होगा। दिल्ली यात्रा का अनुभव बहुत ही बुरा रहा।

सीएम केजरीवाल के घर से कुछ कदम दूर वारादात
उल्लेखनीय है कि जिस इलाके में प्रधानमंत्री के परिवार की सदस्य के साथ दिन-दहाड़े यह सनसनीखेज घटना घटित हुई, वहीं दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल का भी आवास है। चंद कदम पर ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का निवास है। पास ही दिल्ली विधानसभा भी स्थित है।

कमेंट करें
wyTcN