दैनिक भास्कर हिंदी: मोदी ने दिखाई विकास की रफ्तार, कहा- जिसका शिलान्यास करते हैं उसका उद्घाटन भी करते हैं

September 23rd, 2017

डिजिटल डेस्क, वाराणसी। अपने दो दिवसीय वाराणसी दौरे पर आए पीएम नरेंद्र मोदी ने जुलाहों और हथकरघा उद्योग में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए दीनदयाल हस्‍तकला संकुल ट्रेड सेंटर के दूसरे चरण की शुरुआत कर दी है। इसी के साथ पीएम मोदी ने एक सभा को भी संबोधित करते हुए टैक्सी ड्राइवरों को टूरिस्टों के साथ सामंज्य रखने का आव्हान किया। मोदी ने कहा कि विदेशी टूरिस्ट आएगा तो यहां से कुछ न कुछ लेकर जाएगा। यह म्यूजियम काशी के टूरिज्म को बढ़ावा देगा।

वाराणसी पीएम नरेंद्र मोदी संसदीय क्षेत्र भी है। इस दौरान कई अहम बातें कहते हुए पीएम मोदी ने टैक्सी ड्राइवरों से आग्रह किया है कि वह आने वाले टूरिस्टों का भारत के सामर्थ्य से परिचय कराएं। जो यहां आएंगे वहा काशी के सामर्थ्य को जानेंगे। काशी के कला कौशल को बल मिलेगा और आर्थिक गतिविधि का यह केंद्र बनेगा।

पीएम ने कहा कि दो जगहों से चुने जाने के बाद मैंने काशी के विकास को चुना। वहां पर मेरे अन्य साथी हैं। आज वडोदरा और काशी को जोड़ा जा रहा है। पीएम मोदी ने कहा कि काशी में जलतप वाहिनी का भी उद्घाटन हुआ है। इससे लोगों को फायदा होगा। उन्होंने कहा कि काशी की ट्रैफिक की समस्या दूर करने के लिए जलमार्ग का उपयोग करना चाहिए।

पीएम ने कहा, ‘आज करीब 300 करोड़ रुपए की लागत से वस्त्र मंत्रालय द्वारा जिस प्रकल्प का लोकार्पण हो रहा है, मैं नहीं मानता हूं कि पिछले कई दशकों में बनारस की धरती पर इतने बड़े किसी प्रकल्प की योजना साकार हुई होगी। जिस प्रकल्प का शिलान्यास हम करते हैं, उसका उद्घाटन भी हम ही करते हैं। वरना राजनीतिक हिसाब किताब से शिलान्यास होते रहते हैं, योजनाएं लटकती रहती हैं।’

पीएम मोदी ने कहा कि कोई भी गरीब अपने बच्चे को गरीबी की जिंदगी नहीं देना चाहता है। हर एक पिता अपनी आने वाली पीढ़ी को सम्मान की जिंदगी देना चाहता है। कोई गरीब अपनी संतानों को विरासत में गरीबी नहीं देना चाहता है। भारत सरकार भी देश की भावी पीढ़ी के लिए ऐसा ही सोचती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी स्थित तुलसी मानस मंदिर में किए दर्शन। यहां उन्होंने कहा कि आज प्रभु राम के जीवन से संबंधित एक डाक टिकट का अनावरण किया जा रहा है। यह मैं दिल्ली में कर सकता था लेकिन मैंने इसके लिए मानस मंदिर का चुनाव किया। इससे पहले रेल मंत्री पीयूष गोयल ने महामना एक्सप्रेस (वाराणसी से वडोदरा) को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया, साथ ही यात्रियों से बातचीत भी की।

गौरतलब है कि पीएम मोदी शुक्रवार से दो दिवसीय दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंच गए हैं। उनका यह दौरा 22 से 23 सितंबर तक रहेगा। पीएम वाराणसी की जनता को 846 करोड़ की सौगात देने वाले हैं। 17 परियोजनाओं का लोकार्पण और 6 परियोजनाओं का शिलान्यास करेंगे। प्रधानमंत्री का अस्सी घाट जाने का कार्यक्रम रद्द हो गया है, लेकिन वह दुर्गा कुंड जाएंगे और दुर्गा मंदिर में दर्शन करेंगे। इसके अलावा वह शहंशाहपुर के लोगों से संवाद करेंगे। इसके साथ उनका पशुधन प्रक्षेत्र में जाने और प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों को प्रमाणपत्र देने का भी कार्यक्रम है। महामना एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाएंगे जो वाराणसी को सूरत-वडोदरा से जोड़ेगी।

बनारस में पीएम मोदी

  • पीएम ने कहा कि दुनिया भारत की विशेषताओं के प्रति आकर्षित हो रही है।
  • पीएम ने कहा कि हर समस्या का समाधान विकास में है।
  • यहां के शिल्पकारों के सामर्थ्य का परिचय कराती है।
  • काशी के कला कौशल को बल मिलेगा, आर्थिक गतिविधि का यह केंद्र बनेगा।
  • पीएम ने कहा कि मैंने गरीबी देखी है, मैं नहीं चाहता देश की आने वाली पीढ़ी गरीबी देखे।
  • बुनकरों और शिल्पकारों के लिए 300 करोड़ की लागत से बनाए गए दीनदयाल हस्तकला संकुल का भी उद्घाटन किया गया।
  • मोदी ने कहा कि हम जब किसी प्रॉजेक्ट का शिलान्यास करते हैं तो उसका उद्घाटन भी करते हैं।
  • पीएम मोदी ने किया भगवान राम के जीवन से जुड़े टिकट का अनावरण।
  • कहा डाक टिकट इतिहास को सहेज कर रखने का एक अद्भुत तरीका है। इनका समाज में एक प्रमुख स्थान होता है।
  • पीएम बोले भगवान राम का जीवन सभी के लिए प्रेरक है।
  • मोदी ने कहा कि यह पहला ऐसा टिकट संग्रह है जहां प्रभु राम के जीवन को अलग-अलग टिकटों के माध्यम से
  • दर्शाया गया है।
  • रेल मंत्री पीयूष गोयल ने महामना एक्सप्रेस (वाराणसी से वडोदरा) को दिखाई हरी झंडी।
  • बनारस के दुर्गाकुंड मंदिर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। यहां करेंगे आज रात्रि विश्राम।

23 सितंबर का कार्यक्रम

  • सुबह 9.30 बजे- डीरेका हैलीपैड से आराजी हैलीपेड पर आगमन।
  • सुबह 9.35 बजे- आराजी लाइन से सड़क मार्ग के जरिए शहंशाहपुर के लिए प्रस्थान करेंगे, जहां स्वच्छता कार्यक्रम में भाग लेंगे।
  • शाम 9.55 बजे- शहंशाहपुर से सड़क मार्ग से पशुधन प्रक्षेत्र जाएंगे, किसानों को कर्ज माफी और प्रधानमंत्री आवास के लाभार्थियों को प्रमाण पत्र वितरित करेंगे।
  • सुबह 11.35 बजे- पशुधन प्रक्षेत्र से सड़क मार्ग से आराजी लाइन हैलीपैड जाएंगे।
  • सुबह 11.45 बजे- आराजी लाइन हैलीपैड से हेलिकॉप्टर से बाबतपुर एयरपोर्ट के लिए रवाना होंगे।
  • दोपहर 12.10 बजे- बाबतपुर एयरपोर्ट से नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे।