comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

शाहजहांपुर में गरजे मोदी - जितने दल मिलेंगे उतना दलदल बनेगा, इसमें ही तो कमल खिलेगा

July 21st, 2018 19:22 IST

हाईलाइट

  • शाहजहांपुर पहुंचे पीएम मोदी।
  • किसान रैली में कांग्रेस पर बोला हमला।
  • पीएम मोदी इस रौली में किसानों को बड़ी सौगत दे सकते हैं।

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। न्यूनतम समर्थन मूल्य बढ़ाने के बाद शनिवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शाहजहांपुर में किसानों की रैली को संबोधित किया। किसान रैली को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, मैं शाहजहांपुर में किसानों से किया गया वादा निभाने आया हूं। 14 खरीफ फसलों के एमएसपी दाम बढ़ाना किसानों के हक में हमारी सरकार का ऐतिहासिक कदम है। किसानों के जीवन में खुशहाली आए ये ही हमारी सरकार का लक्ष्य है।
 

कांग्रेस पर साधा निशाना 
पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, जितने दल मिलते जाएंगे दलदल बनेंगा और इसी दलदल में कमल खिलेगा। पीएम मोदी ने कहा, कि 90 हजार करोड़ इधर-उधर होना बंद हुए तो कुछ लोगों की मुफ्त की कमाई बंद हो गई। ये सब होता देख सदन में विपक्ष अविश्वास प्रस्ताव ले आया। जब हमनें पूछा अविश्वास प्रस्ताव की वजह क्या तो बता नहीं सके और हमारे गले पड़ गए। पीएम मोदी ने कहा, कौन सा पंजा 1 रूपये में से 85 पैसा मार लेता था ये किसी से छिपा नहीं है। पिछली सरकार को किसानों की चिंता नहीं थी। ये सरकार सिर्फ घड़ियाली आंसू बहाती है। कांग्रेस के शासनकाल में सिंचाई परियोजना में धंधली की गई थी। किसानों के हक में कोई फैसला नहीं लिया। किसानों यूरिया से लेकर कृषि की हर जरूरी चीज के लिए परेशान होता था। 

किसानों के लिए बोले मोदी 
गन्ना उत्पादन पर पीएम मोदी ने कहा कि हमारी सरकार 5 करोड़ गन्ना किसानों के लिए काम कर रही है। चीनी मीलों को नई आधुनिक मशीनों की मदद दी जा रही है। चीनी के आयात पर 100 प्रतिशत शुल्क लगाया जा रहा है। अब चीनी से ईंधन भी बनाया जा रहा है। इथनॉल के लिए मशीनें भी दी जा रही है। 160 करोड़ लीटर इथनॉल का उत्पादन हो रहा है। जबकि कांग्रेस के शासनकाल में ये उत्पादन महज 40 करोड़ लीटर होता था। किसानों का यूरिया के लिए परेशान नहीं होना पड़ता है। अब आसानी से किसानों को यूरिया उपलब्ध हो जाता है।


 

LIVE UPDATE


1.35 PM: विपक्ष के गठबंधन पर पीएम मोदी ने हमला बोलते हुए कहा जितने दल मिलेंगे उतना दल-दल बनेगा, इसमें ही तो कमल खिलेगा।

1.34 PM: कल लोकसभा में हम ये उनसे लगातार पूछते रहे कि इस अविश्वास का कारण क्या है, अब जब वो कारण नहीं बता पाए तो गले पड़ गए- मोदी

1.31 PM: कल संसद में जो हुआ वो पूरे देश की जनता ने देखा कि कुछ लोगों को सिर्फ प्रधानमंत्री की कुर्सी दिखती है, उन्हें ना देश दिखता है ना देश का गरीब दिखता है- पीएम मोदी

1.29 PM: संसद में अपना काम किया, लालबत्ती के खिलाफ खड़ा होकर गुनाह किया क्या? परिवारवाद के खिलाफ खड़ा होना मेरा गुनाह क्या है ? - पीएम मोदी

1.12 PM: हमारा निरंतर प्रयास है कि गन्ना किसान की एक-एक पाई उस तक समय पर पहुंचे। पुरानी सरकारों के समय में किसानों को परेशान होना पड़ता था। 

1.10 PM: देश के हर किसान के पसीने का, मेहनत का सम्मान हो, यही केंद्र की सरकार, उत्तर प्रदेश की सरकार की प्राथमिकता है। 

01.04 PM: किसानों का पुराना बकाया लगातार कम हो रहा है। कछुए की चाल से काम करने पर किसानों के पैसे फंसे थे- मोदी

01.02 PM: 160 करोड़ लीटर इथनॉल का उत्पादन हो रहा है। जबकि कांग्रेस के शासनकाल में ये उत्पादन महज 40 करोड़ लीटर होता था।

12.58 PM: हमारी सरकार ने गन्ना मीलों में काम कर रहे कर्मचारियों और उनके परिवार को ध्यान में रखते हुए सरकार ने कई निर्णय किए हैं- पीएम मोदी

12.58 PM: हमारी सरकार 5 करोड़ गन्ना किसानों के लिए काम कर रही है। आज 20 लाख टन चीनी निर्यात की इजाजत दी। चीनी के लिए न्यूनतम मूल्य तय किया है।

12.56 PM: मोदी ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा है कि कांग्रेस ने किसानों के हित कुछ नहीं किया है। ये लोग सिर्फ घड़ियाली आंसू बहाते हैं- पीएम मोदी

12.54 PM: दिल्ली में मैं कुछ किसानों से खुशखबरी देने का वादा किया था। आज मैं सभी किसानों को वो खुशखबरी देने के लिए शाहजहांपुर आया हूं। 

12.53 PM: किसान कल्याण रैली' को सम्बोधित कर रहे हैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी।

पीएम मोदी के शाहजहांपुर दौरे को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम

आतंकी अलर्ट को देखते हुए प्रशासन ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। कार्यक्रम स्थल सुरक्षा जवानों को तैनात किया गया था। रैली के लिए जर्मन हैंगर तकनीक का पंडाल व चार हेलीपैड बनाए गए थे। 

अपने शाहजहांपुर दौरे के दौरान प्रधानमंत्री तीन तलाक का शिकार हुई निदा खान से मिले। निदा के खिलाफ बरेली के मौलाना द्वारा फतवा भी जारी किया गया था। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फरहत नकवी इस दौरान निदा खान के साथ रही। दोनों महिलाओं को इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बरेली से बीजेपी विधायक राजेश कुमार मिश्रा द्वारा आधिकारिक न्यौता दिया गया था। 

Image result for pm modi

शाहजहांपुर को महानगर बनवाने में नगर विकास मंत्री सुरेश कुमार खन्ना का बड़ा योगदान है। इस योगदान के बाद सुरेश कुमार खन्ना शाहजहांपुर को एयरपोर्ट की सौगात दिलाने के लिए लंबे समय से प्रयासरत हैं। एयरपोर्ट की जमीन के लिए शाहजहांपुर में कई जगह सर्वे भी हो चुका है। इसके साथ शाहजहांपुर के लोग रोजा रेलवे जंक्शन को पुराना गौरव लौटाने की मांग भी प्रधानमंत्री से कर रहे हैं। यहां पहले सभी प्रमुख ट्रेनों का स्टापेज होता था, यहीं पर इंजनों में डीजल भी भरा जाता था। अन्य रेलवे के प्रमुख काम भी यहीं होते थे, पर धीरे-धीरे रोजा महत्व कम होता गया।


शाहजहांपुर के लोग काफी समय से कृषि विश्वविद्यालय की डिमांड कर रहे हैं। पहले तो इसके लिए जमीन की दिक्कत आ रही थी, लेकिन अब तो जिला प्रशासन ने जमीन की समस्या को भी दूर कर दिया है। खुटार ब्लाक के सिमरा वीरान स्थित गोसदन की जमीन पर कृषि विश्वविद्यालय बनाए जाने का प्रस्ताव प्रशासन ने उत्तर प्रदेश सरकार को भेज दिया है। पूर्व केंद्रीय गृहराज्यमंत्री स्वामी चिन्मयानंद कहते हैं कि सात नदियों से घिरा शाहजहांपुर कृषि प्रधान जिला है, यहां अनाज की सबसे बड़ी मंडी भी है। आलू, गेहूं, धान, गन्ना, मेंथा, सरसों, तिल, मूंगफली, सोयाबीन की फसल बड़े स्तर पर होती है। आधुनिक कृषि तकनीकों से वंचित होने के कारण उन्हें अपेक्षित उपज का लाभ नहीं मिल पाता। 

पीएम मोदी के कार्यक्रम की रूपरेखा

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 10:55 मिनट पर दिल्ली से रवाना हुए
  • 11:40 बेज बरेली त्रिशूल एयरपोर्ट पर पहुंचें
  • 11.50 पर यहां से शाहजहांपुर के लिए रवाना हुए
  • दोपहर 12.30  बजे शाहजहांपुर में वो किसान रैली को संबोधित किया
  • दोपहर 1:30 पर वापस बरेली रवाना हुए
  • 2:05 मिनट पर बरेली पहुंचें
  • 2:10 मिनट पर दिल्ली के लिए रवाना हुए
     
कमेंट करें
7Gvwe
NEXT STORY

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

Real Estate: खरीदना चाहते हैं अपने सपनों का घर तो रखे इन बातों का ध्यान, भास्कर प्रॉपर्टी करेगा मदद

डिजिटल डेस्क, जबलपुर। किसी के लिए भी प्रॉपर्टी खरीदना जीवन के महत्वपूर्ण कामों में से एक होता है। आप सारी जमा पूंजी और कर्ज लेकर अपने सपनों के घर को खरीदते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि इसमें इतनी ही सावधानी बरती जाय जिससे कि आपकी मेहनत की कमाई को कोई चट ना कर सके। प्रॉपर्टी की कोई भी डील करने से पहले पूरा रिसर्च वर्क होना चाहिए। हर कागजात को सावधानी से चेक करने के बाद ही डील पर आगे बढ़ना चाहिए। हालांकि कई बार हमें मालूम नहीं होता कि सही और सटीक जानकारी कहा से मिलेगी। इसमें bhaskarproperty.com आपकी मदद कर सकता  है। 

जानिए भास्कर प्रॉपर्टी के बारे में:
भास्कर प्रॉपर्टी ऑनलाइन रियल एस्टेट स्पेस में तेजी से आगे बढ़ने वाली कंपनी हैं, जो आपके सपनों के घर की तलाश को आसान बनाती है। एक बेहतर अनुभव देने और आपको फर्जी लिस्टिंग और अंतहीन साइट विजिट से मुक्त कराने के मकसद से ही इस प्लेटफॉर्म को डेवलप किया गया है। हमारी बेहतरीन टीम की रिसर्च और मेहनत से हमने कई सारे प्रॉपर्टी से जुड़े रिकॉर्ड को इकट्ठा किया है। आपकी सुविधाओं को ध्यान में रखकर बनाए गए इस प्लेटफॉर्म से आपके समय की भी बचत होगी। यहां आपको सभी रेंज की प्रॉपर्टी लिस्टिंग मिलेगी, खास तौर पर जबलपुर की प्रॉपर्टीज से जुड़ी लिस्टिंग्स। ऐसे में अगर आप जबलपुर में प्रॉपर्टी खरीदने का प्लान बना रहे हैं और सही और सटीक जानकारी चाहते हैं तो भास्कर प्रॉपर्टी की वेबसाइट पर विजिट कर सकते हैं।

ध्यान रखें की प्रॉपर्टी RERA अप्रूव्ड हो 
कोई भी प्रॉपर्टी खरीदने से पहले इस बात का ध्यान रखे कि वो भारतीय रियल एस्टेट इंडस्ट्री के रेगुलेटर RERA से अप्रूव्ड हो। रियल एस्टेट रेगुलेशन एंड डेवेलपमेंट एक्ट, 2016 (RERA) को भारतीय संसद ने पास किया था। RERA का मकसद प्रॉपर्टी खरीदारों के हितों की रक्षा करना और रियल एस्टेट सेक्टर में निवेश को बढ़ावा देना है। राज्य सभा ने RERA को 10 मार्च और लोकसभा ने 15 मार्च, 2016 को किया था। 1 मई, 2016 को यह लागू हो गया। 92 में से 59 सेक्शंस 1 मई, 2016 और बाकी 1 मई, 2017 को अस्तित्व में आए। 6 महीने के भीतर केंद्र व राज्य सरकारों को अपने नियमों को केंद्रीय कानून के तहत नोटिफाई करना था।