दैनिक भास्कर हिंदी: 'आज बिना कागज-कलम-कैमरा के मिल रहे हैं, पुरानी यादें ताजा हुईं'

October 28th, 2017

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली।  हर साल की तरह ही इस साल भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी के नेशनल प्रेसिडेंट अमित शाह 'दिवाली मिलन कार्यक्रम' के लिए बीजेपी हेडक्वार्टर में है। बीजेपी के इस दिवाली मिलन कार्यक्रम में देशभर के बड़े पत्रकारों को इनवाइट किया गया है। इसके साथ ही इसमें प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया से जुड़े पत्रकार भी इसमें शामिल हुए हैं। इस कार्यक्रम में पत्रकारों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने शुरुआत में कहा कि आज बिना कागज-कलम-कैमरा के मिल रहे हैं, पुरानी यादें ताजा हुईं। बता दें कि दिवाली के बाद 'दिवाली मिलन कार्यक्रम' की परंपरा पीएम मोदी ने 2014 में सरकार बनने के बाद की थी। 

और क्या कहा पीएम मोदी ने? 

इसके आगे पीएम मोदी ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि, पॉलिटिकल पार्टीज में डेमोक्रेसी का डेवलप होना बहुत जरूरी है और ये देश की हेल्दी डेमोक्रेसी के लिए बहुत जरूरी है। इसको डिबेट का हिस्सा होना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि देश का मीडिया इतना बड़ा योगदान दे सकता है और इतने व्यापक तौर अपनी भूमिका निभा सकता है। ये हमने स्वच्छ भारत अभियान में देखा है। पीएम ने कहा कि भले ही सरकार की आलोचनाओं से अखबार क्यों न भरे हों, लेकिन स्वच्छ भारत अभियान में सब एक साथ नजर आए। उन्होंने कहा कि भारत जैसे देश में मीडिया का मिशन मोड में जुट जाना, बड़ी बात है। हालांकि अभी भी बहुत कुछ किया जाना बाकी है। दिवाली मिलन समारोह में पीएम मोदी ने बोलते हुए कहा कि आज पुराने दिनों की यादें ताजा हो गई। पहले ऐसा समय था कि पत्रकारों को खोजना पड़ता था, लेकिन अब मीडिया का दायरा बढ़ गया है। पीएम ने कहा कि पहले मीडिया में कम लोग रहते थे। 5-7 लोगों से पहचान बना ली, तो गाड़ी चल जाती थी, लेकिन आज मीडिया का दायरा बढ़ गया है और ये हम लोगों के लिए भी काफी चुनौती है। 

अमित शाह ने क्या कहा? 

पीएम मोदी से पहले बीजेपी के नेशनल प्रेसिडेंट अमित शाह ने पत्रकारों का स्वागत किया। उन्होंने दिवाली मिलन समारोह में आए पत्रकारों का स्वागत करते हुए कहा कि एक साल के अंदर भारत ने हर मोर्चे में चुनौतियों का सामना किया है। पीएम मोदी की लीडरशिप में देश आगे बढ़ रहा है।