दैनिक भास्कर हिंदी: दिल्ली: आडवाणी और जोशी से मिले मोदी-शाह, घर पहुंच कर लिया आशीर्वाद

May 24th, 2019

हाईलाइट

  • बीजेपी की प्रचंड जीत के बाद वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात का दौर शुरू
  • पीएम मोदी- अमित शाह ने लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी से की मुलाकात
  • जोशी ने कहा- बीजेपी को करिश्माई जीत मिली, मोदी-शाह ने अच्छा काम किया

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में बीजेपी की ऐतिहासिक जीत के बाद अब पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात का दौर शुरू हो गया है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी से मुलाकात की। मोदी-शाह ने दोनों नेताओं के घर पहुंचकर उनका आशीर्वाद लिया। पीएम ने चुनाव में जीत का श्रेय भी आडवाणी और जोशी को दिया।

मोदी ने ट्विटर पर शेयर की तस्वीरें
पीएम मोदी ने सबसे पहले लाल कृष्ण आडवाणी से मुलाकात की। पीएम मोदी ने ट्विटर पर एक तस्वीर शेयर करते हुए लिखा, मैं आज आडवाणी जी से मिला। आडवाणी जैसे नेताओं के कारण ही आज बीजेपी की जीत संभव हो पाई है, क्योंकि उनके जैसे महान लोगों ने दशकों तक पार्टी का निर्माण किया और लोगों को एक नई विचारधारा दी।

आडवाणी से मिलने के बाद पीएम मोदी और शाह मुरली मनोहर जोशी के घर पहुंचे। बीजेपी के वरिष्ठ नेता जोशी से मिलने के बाद पीएम मोदी ने ट्वीट किया- मुरली मनोहर जोशी एक स्कॉकलर नेता हैं। शिक्षा के क्षेत्र में उनके योगदान को भुलाया नहीं जा सकता है। उन्होंने हमेशा बीजेपी को मजबूत बनाने का काम किया और मेरे सहित कई कार्यकर्ताओं का उत्साहवर्धन किया। आज सुबह उनसे मुलाकात की और उनका आशीर्वाद लिया।

वहीं जोशी ने कहा- मोदी और शाह आशीर्वाद लेने आए थे। यह फलदायी पेड़ जनता के लिए स्वादिष्ट हो ऐसी कामना करता हूं। बीजेपी को करिश्माई जीत मिली, मोदी-शाह ने अच्छा काम किया। जोशी ने ये भी कहा कि, देश के सामने एक मजबूत सरकार बनाने की आवश्यकता पूरा देश महसूस कर रहा था। बीजेपी पार्टी और मोदी के अलावा कोई विकल्प नहीं था। विपक्ष अपनी मनचाही कहानी लोगों को सुना नहीं पाया। मैं जो करता रहा हूं, वही करता रहूंगा। पार्टी क्या करना चाहती है, वह पार्टी अध्यक्ष तय करेंगे।

बीजेपी ने अकेले 303 सीटों पर हासिल की जीत
बता दें कि लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी के नेतृत्व में बीजेपी ने एक बार फिर से जीत का परचम लहराया है। बीजेपी ने अकेले 303 सीटों पर जीत हासिल की है। वहीं, एनडीए ने 351 सीटों पर कब्जा किया है। इतिहास में पहली बार हुआ है जब बीजेपी ने अपने दम पर 300 का आंकड़ा छुआ है। इससे पहले 2014 में पीएम मोदी के नेतृत्व में बीजेपी को 282 सीटें मिली थीं।